अमेरिकी विदेश मंत्री ने अफ़गानिस्तान की अचानक यात्रा की

2017-10-24 14:13:01

23 अक्तूबर को अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने अचानक काबुल पहुंचकर अफ़गान राष्ट्रपति अशरफ़ गनी से वार्ता की। यह भी टिलरसन के अमेरिकी विदेश मंत्री का पद संभालने के बाद पहली अफ़गान यात्रा है।

अफ़गानिस्तान स्थित अमेरिकी दूतावास द्वारा उस दिन जारी वक्तव्य के मुताबिक टिलरसन ने वार्ता में कहा कि दक्षिण एशियाई क्षेत्र में अमेरिका द्वारा अपनायी गयी नयी रणनीति से ज़ाहिर है कि अमेरिका अफ़गान सरकार और अन्य क्षेत्रों के देशों के साथ मिलकर आतंकवादी खतरे का निपटारा करने और अफ़गान की शांति का प्रयास करना चाहता है।

वक्तव्य में कहा गया कि गनी ने वार्ता में ज़ोर दिया कि अफ़गान सरकार सुधार के ज़रिए देश की सुरक्षा और अफ़गान जनता के हितों की रक्षा करेगी।

गौरतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने इस साल 21 अगस्त को अफ़गान मामले की नयी रणनीति जारी की और कहा कि अमेरिका अफ़गानिस्तान से सेना नहीं हटाएगा। अमेरिकी सेना पूर्वनिर्धारित समय तिथि की जगह यथार्थ स्थिति के मुताबिक सैन्य कार्यवाई करेगी। लेकिन अमेरिका की नयी रणनीति के प्रति अफ़गानिस्तान के विभिन्न तबकों के मत अलग अलग हैं। अफ़गानिसस्तान पूर्व राष्ट्रपति करज़ई ने 12 अक्तूबर को खुलेआम नयी रणनीति की आलोचना की। उन्होंने माना कि नयी रणनीति शांति का संदेश नहीं देती है। अमेरिका ने गलत आतंक विरोधी नीति अपनायी है, जिससे उग्रवादी संगठन आईएस की आतंकी कार्यवाई तेज़ हुई और इस वजह से कई आम नागरिक मारे गए। (श्याओयांग)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी