चीन और अमेरिका के बीच 250 अरब अमेरिकी डॉलर के समझौतों पर हस्ताक्षर हुए

2017-11-10 16:26:00

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने 9 नवम्बर को पेइचिंग में चीन-अमेरिका उद्यमी सम्मेलन और दोनों देशों के बीच ऊर्जा, विनिर्माण, कृषि और दो-तरफ़ा निवेश के संदर्भ में सिलसिलेवार समझौतों के हस्ताक्षर रस्म में भाग लिया । हस्ताक्षरित समझौतों की कुल राशि 253.5 अरब अमरीकी डॉलर तक पहुंच गई जो विश्व में एक नया कीर्तिमान कायम हुआ ।

विश्व में सबसे बड़ी दो अर्थव्यवस्था होने के नाते चीन और अमेरिका के बीच व्यापारिक सहयोग पर विश्व का ध्यान खींचा गया है । 9 नवम्बर को पेइचिंग में दोनों देशों ने ऊर्जा, विनिर्माण, कृषि और विमानन आदि से संबंधित 15 सहयोगी दस्तावेज़ों पर हस्ताक्षर किये । वर्ष 2016 में चीन और अमेरिका के बीच मालों की व्यापार रकम पाँच खरब अमेरिकी डालर तक जा पहुंची जो वर्ष 1979 में दोनों के बीच राजनयिक संबंधों की स्थापना से 200 गुणा अधिक है । चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने कहा कि तथ्यों से यह जाहिर है कि विश्व में सबसे बड़ा विकसित और विकासमान देश होने के नाते चीन और अमेरिका के बीच सहयोग करने की बड़ी निहित संभावना है और उन्हें उभय जीत सहयोग किया जा सकता है ।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि अमेरिका चीन के साथ आपसी लाभ वाले सहयोग जारी रखने को तैयार है । आशा है कि दोनों देशों के उद्यमी एक दूसरे से सबक लेकर अधिक सहयोग करने पर सहमति संपन्न करेंगे ।

उसी दिन हस्ताक्षरित समझौतों में ऊर्जा सहयोग का प्रमुख भाग बना हुआ है । दोनों देशों के ऊर्जा समूहों के प्रमुखों ने कहा कि चीनी कंपनी अमेरिका के शेल गैस उद्योग में निवेश लगाएगी जिससे दोनों देशों को लाभ मिलेगा ।

( हूमिन )

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी