ब्रिक्स देश-अफ्रिकी देश सहयोग आम हितों के अनुकूल है :चीन सरकार की विशेष प्रतिनिधि

2017-11-10 17:36:01

ब्रिक्स देशों और अफ्रिकी देशों के बीच सहयोग दोनों पक्षों के आम हितों के अनुकूल है। इसका भावदृश्य काफी आशावादी होगा। अफ्रिकी मामलों पर चीन सरकार की विशेष प्रतिनिधि शू चिंगहू ने 9 नवंबर को 10वीं एमईडीज इंटरनेशनल फ़ोरम (एमईडीएवाईएस) में भाग लेते समय यह बात कही।

शू चिंगहू ने कहा कि ब्रिक्स देश और अफ्रिकी देश वैश्विक आर्थिक विकास की महत्वपूर्ण संचालक शक्ति हैं। दोनों पक्ष अपनी स्थिति के अनुकूल होने वाले विकास पथ की खोज कर रहे हैं। वे आम विकास कर्तव्यों और चुनौतियों का सामना करते हैं। साथ ही वे पहले से और निष्पक्ष और उचित अंतर्राष्ट्रीय व्यवस्था की स्थापना की कोशिश कर रहे हैं। इसीलिये दोनों पक्षों की विकास रणनीति के फोकस काफी हद तक एक से हैं।

उन्होंने कहा कि वर्ष 2013 से हर वर्ष ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में उभरते बाज़ार देशों और विकासशील देशों के बीच बैठक आयोजित होती है। यह एक अच्छी परंपरा है। वर्ष 2017 ब्रिक्स देशों की घूर्णन प्रेसीडेंसी के रूप में चीन ने “ब्रिक्स प्लस” सहयोग तंत्र की संरचना की।

उन्होंने आगे कहा कि इस सितंबर में आयोजित ब्रिक्स श्यामन शिखर सम्मेलन में ये अपील की गयी कि ब्रिक्स देशों और अफ्रिकी देशों को सहयोग मज़बूत करना और अफ्रीका में हरित विकास को बढ़ाना चाहिये। साथ ही संबंधित पक्षों ने अपील की कि ब्रिक्स देशों को अफ्रीकी संघ की “2063 कार्यसूची” के ढांचे में अफ्रीकी देशों के साथ सहयोग को मज़बूत करना चाहिये। शू चिंगहू ने आगे कहा कि ब्रिक्स देशों के उद्देश्य सहयोग, आम-जीत, खुलेपन और उदार हैं। उम्मीद है कि और ज्यादातर अफ्रीकी देश “ब्रिक्स प्लस” में भाग लेंगे।(हैया)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी