चीन रूस और भारत को विश्व में और अधिक निश्चित और सकारात्मक ऊर्जा लानी चाहिए:वांग यी

2017-12-12 15:12:04

11 दिसंबर को चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने दिल्ली में चीन, रूस और भारत के विदेश मंत्रियों के बीच भेंटवार्ता के बाद संवाददाताओं से कहा कि वर्तमान में दुनिया के सामने विकास और बदलाव की स्थिति मौजूद है, अस्थिरता और अनिश्चितता गंभीर हो रही है। दुनिया पर प्रभाव डालने वाले बड़े देशों और प्रमुख नवोदित बाजार देशों के रूप में चीन, रूस और भारत अपने अंतर्राष्ट्रीय जिम्मेदारी देखते हैं और रणनीतिक ताल-मेल और संपर्क को आगे बढ़ाकर अंतर्राष्ट्रीय स्थिति की स्थिरता के लिए सकारात्मक भूमिका निभाना चाहते हैं। ताकि विश्व को और अधिक निश्चित और सकारात्मक ऊर्जा प्रदान की जा सके।

वांग यी ने कहा कि वर्तमान तीन देशों के विदेश मंत्रियों के बीच भेंटवार्ता में मैंने चीन यहां तक कि विश्व के लिए 19वीं सीपीसी कांग्रेस के महत्व का परिचय दिया। चीन शांति और विकास से राष्ट्रीय पुनरुत्थान पर अमल करना चाहता है। नए युग के रुझान और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय की इच्छा के अनुसार विभिन्न देशों के साथ मिलकर एक दूसरे का सम्मान, निष्पक्षता और न्याय, सहयोग और समान जीत के नए किस्म वाले अंतर्राष्ट्रीय संबंधों का निर्माण करना चाहता है। यह रूस और भारत के विचार की तरह है। रूस और भारत ने इसका सकारात्मक मूल्यांकन किया।

वांग यी ने कहा कि चीन, रूस और भारत विकास और पुनरुत्थान के महत्वपूर्ण ऐतिहासिक दौर में हैं, जिनकी घरेलू और विदेश नीतियों के बीच कई समानताएं हैं। तीनों पक्षों को एक दूसरे से सीखकर समान रूप से विकास करना चाहिए। तीनों पक्षों की यह सहमति है कि आपसी संबंधों और सहयोग को आगे बढ़ा कर अपने अपने देश के विकास के साथ क्षेत्रीय और विश्व शांति और समृद्धि में भी योगदान दिया जा सकेगा।(वनिता)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी