मशहूर चीनी लेखक आलाए की पुस्तक “रेड पॉपीज़” की हिन्दी संस्करण प्रकाशित हुआ

2017-12-21 19:43:03

चीनी प्रसिद्ध लेखक आलाए के पुस्तक “रेड पॉपीज़ (Red Poppies)” और “खोखले पर्वत (Hollow Mountain)” की हिन्दी संस्करण 20 दिसंबर को नई दिल्ली में आधिकारिक तौर पर प्रकाशित हुआ। पुस्तक “रेड पॉपपीज़” के सहारे आलाई को चीन का सर्वोच्च सम्मान साहित्य पुरस्कार माओ डुन साहित्य पुरस्कार मिला।

भारतीय संवाददाता और विद्वान आनंद स्वरूप वर्मा ने इन दोनों पुस्तकों का अनुवाद किया है। वर्मा समेत चीन और भारत के दसियों लेखकों, विशेषज्ञों, विद्वानों और प्रकाशकों ने इन दोनों पुस्ताकों के प्रेस सम्मेलन में भाग लिया।

इन दोनों पुस्तकों के भारतीय प्रकाशक ने कहा कि किसी देश और जनता को समझने के लिये पुस्तक सबसे अच्छा रास्ता हैं। विदेशी साहित्य से परिचय करवाने के क्षेत्रों में चीन ने उत्कृष्ट काम किया है। भारत को चीनी कृतियों के अनुवाद और प्रकाशन को मज़बूत करना चाहिये। इसीलिये वे भारतीय लोगों को चीन को समझने की और ज्यादा रास्ते प्रदान करेंगे और चीन-भारत गैर सरकारी मेलजोल को और आगे बढाएंगे।

चीन के प्रकाशन-गृह द कमर्श्यल प्रेस (the commercial press) के महासंपादक चोउ होंगबो ने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में चीन ने रबीन्द्रनाथ टैगोर की कृतियों और भारतीय संस्कृति पर पुस्तकों का अनुवाद और प्रकाशन किया। ये काफी लोकप्रिय हैं। उम्मीद है कि भविष्य में चीन और भारत के प्रकाशन-गृहों के बीच सहयोग और बढ़ेगा। वे भारत में और ज्यादा चीनी कृतियां पेश की जाएंगी।(हैया)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी