पेइचिंग : चीन और फ्रांस के राष्ट्रपतियों के बीच बातचीत

2018-01-09 15:30:05

चीनी और फ्रांसीसी राष्ट्रपति दंपति

चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 8 जनवरी को पेइचिंग में फ्रांस के राष्ट्रपति एमानुएल मैक्रोन से भेंट के दौरान कहा कि हम इतिहास के नये युग में द्विपक्षीय संबंधों के और उज्ज्वल भविष्य के लिए कोशिश करेंगे।

शी चिनफिंग ने मैक्रोन के साथ वार्ता करते हुए कहा कि नये साल की शुरुआत में मैक्रोन की चीन यात्रा से उनका चीन-फ्रांस संबंधों के प्रति दिया गया महत्व साबित होता है। सन 1964 में तत्कालीन चीनी नेता माऔ त्से तुंग और फ्रांसीसी राष्ट्रपति जनरल डी गॉल ने शीत युद्ध के पक्षपात को छोड़कर चीन और फ्रांस के बीच राजनयिक संबंधों की स्थापना को बढ़ाया। फ्रांस उस समय चीन के साथ राजनयिक संबंध स्थापित करने का प्रथम पश्चिमी देश बना। आज दुनिया में गहन रूप से परिवर्तन नजर आ रहा है। हमारे दोनों पक्षों की आशा है कि चीन-फ्रांस संबंधों को आगे घनिष्ठ बनाया जाएगा और द्विपक्षीय संबंधों को आगे बढ़ाया जाएगा। चीन महत्वपूर्ण सवालों पर फ्रांस के साथ सहयोग करेगा ताकि विश्व की सुस्थिरता और समृद्धि को बढ़ावा मिले।

मैक्रोन ने कहा कि मैं राष्ट्रपति शी चिनफिंग के साथ द्विपक्षीय संबंधों और महत्वपूर्ण अंतर्राष्ट्रीय सवालों पर विचारों का आदान प्रदान करना चाहता हूं और फ्रांस व यूरोप के चीन के साथ संबंधों को घनिष्ठ बनाना चाहता हूं। एक पट्टी एक मार्ग महत्वपूर्ण अनुमोदन है और फ्रांस इसमें सक्रियता से भाग लेने को तैयार है। फ्रांस चीन के साथ-साथ जलवायु परिवर्तन जैसे सवालों पर समान चुनौतियों के मुकाबले में योगदान देगा।

( हूमिन )

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी