2020 तक पेइचिंग में सुन्दर गांव का निर्माण पूरा होगा

2018-01-11 11:30:13

पेइचिंग म्युनिसिपल सरकार ने हाल में दस्तावेज़ जारी कर सुंदर गांव के निर्माण से जुड़े तीन दिवसीय विशेष अभियान औपचारिक तौर पर शुरू किया। लक्ष्य है कि साल 2020 के अंत से पूर्व बुनियादी तौर पर पेइचिंग के ग्रामीण क्षेत्रों में सुन्दर गांव के निर्माण का मिशन पूरा होगा। मौके पर पूरे पेइचिंग के ग्रामीण क्षेत्रों में सार्वजनिक शौचालय का स्तर मापदंड पर पहुंचेगा, गांवों में किसानों के घर में शौचालय की स्थिति में काफी हद तक सुधार आएगा। इस के साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में निर्मित अवैध इमारतों को नष्ट किया जाएगा, वन रोपण का क्षेत्रफल विस्तार किया जाएगा और गांववासियों की जीवन गुणवत्ता को उन्नत किया जाएगा। सुनिए इस संदर्भ में एक रिपोर्ट विस्तार से:

पेइचिंग म्युनिसिपल के न्यूज़ कार्यालय द्वारा कुछ दिन पहले आयोजित न्यूज़ ब्रिफिंग में म्युनिसिपल की गांव कार्य समिति के उप सचिव सू वेइतोंग ने कहा कि भावी 3 सालों में बुनियादी तौर पर सभी गांवों में सुन्दर गांव के निर्माण वाला मिशन पूरा होगा। उनका कहना है:“पहला कदम, ग्रामीण क्षेत्रों में चतुर्मुखी तौर पर पर्यावरण का निपटारा किया जाएगा। उप नगरों में प्रमुख मार्गों, पर्यटन क्षेत्रों और महत्वपूर्ण स्थलों के आसपास बसे 1 हज़ार गांवों में पर्यावरण निपटारा करने और सुन्दर गांव के निर्माण वाले कार्य पूरे होंगे, ताकि सुन्दर गांव के निर्माण के नए चरण के लिए मज़बूत आधार तैयार किया जा सके। दूसरा कदम, सुन्दर गांव के निर्माण को गहराए जाने के साथ-साथ संबंधित कार्य को और विस्तार किया जाएगा, ताकि और एक हज़ार गांवों में सुन्दर गांव के निर्माण का मिशन पूरा हो सके। तीसरा कदम, साल 2020 तक, बुनियादी तौर पर सभी गांवों में सुन्दर गांव निर्माण कार्य पूरा होगा।”

सू वेइतोंग के मुताबिक, आने वाले दिनों में पेइचिंग में ग्रामीण पर्यावरण के बहुमुखी निपटारे पर जोर दिया जाएगा, खासकर शौचालय के स्वास्थ्य मुद्दे को अधिक महत्व दिया जाएगा। उन्होंने कहा:“हमारा ध्यान अव्यवस्थित कचरे, प्रदूषित पानी, गंदे शौचालय आदि ग्रामीण क्षेत्रों में मौजूद अहम मुद्दों पर रहेगा। विशेष कर स्वास्थ्य से जुड़े मुद्दे और नागरिकों का ध्यान केंद्रित मुद्दों का निपटारा करेंगे। साल 2020 तक पूरा पेइचिंग शहर के ग्रामीण क्षेत्रों में शौचालय का स्तर मापदंड तक पहुंच सकेगा, किसानों के घर में शौचालय की स्थिति में बेहतर सुधार आएगा। कचरा वर्गीकरण के करीब 1500 मॉडल गांवों की स्थापना की जाएगी। इसके साथ ही सभी ग्रामीण क्षेत्रों में प्रदूषित पानी का कारगर निपटारा किया जाएगा।”  

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी