यूरोपीय संघ और फ्रांस, जर्मनी, ब्रिटेन ने ईरान के परमाणु समझौते की रक्षा को दोहराया

2018-01-12 16:31:02

यूरोपीय संघ के कूटनीति और सुरक्षा नीति के लिए उच्च प्रतिनिधि फेडेरिका मोग्हेरीनी और फ्रांस, जर्मनी, ब्रिटेन तीन देशों के विदेश मंत्रियों ने 11 जनवरी को ब्रसेल्स में दोहराया कि यूरोपीय संघ और उसके सदस्य देश ईरान के परमाणु समझौते का पालन दृढ़ता से करेंगे।

उसी दिन ईरानी विदेश मंत्री जावेद जरिफ से मुलाकात करके मोग्हेरीनी, फ्रांस के विदेश मंत्री जीन ले डरियन, जर्मनी के विदेश मंत्री सिगमर गैब्रील, ब्रिटेन के विदेश मंत्री बोरीज़ जॉनसन ने प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन करके यूरोपीय संघ के इस रुख को दोहराया।

मोग्हेरीनी ने कहा कि ईरान के परमाणु समझौते का मुख्य उद्देश्य अब पूरा हो रहा है। यानी ईरान के परमाणु परियोजनाओं का निकट पर्यवेक्षण करना है। अंतर्राष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी की नौ रिपोर्टों में यह स्पष्ट किया गया है कि ईरान ने समझौते में अपने वादों का पालन पूरी तरह किया है।

उन्होंने जोर देते हुए कहा कि ईरान परमाणु समझौता संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद द्वारा पारित बहु-पक्षीय समझौता है। जो परमाणु गैर-प्रसार की वैश्विक प्रणाली में एक मुख्य लिंक है। जो क्षेत्रीय और यूरोप की सुरक्षा के लिए भी महत्वपूर्ण है।

उन्होंने कहा कि ईरान के बैलिस्टिक मिसाइल का विकास करना और क्षेत्रीय स्थिति में तनाव होना आदि समस्या ईरान के परमाणु समझौते के बाहर है। यूरोप अन्य तरीकों व मंचों के जरिए इनका समाधान करेगा।

(नीलम)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी