तूंगलांग क्षेत्र में अपनी प्रभुसत्ता के अधिकारों पर डटा रहेगा चीन

2018-01-16 10:02:01

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लू कांग ने 15 जनवरी को पेइचिंग में कहा कि तूंगलांग चीन की प्रादेशिक भूमि है। चीन ऐतिहासिक सीमा के मुताबिक इस क्षेत्र में अपनी प्रभुसत्ता के अधिकारों का प्रयोग करेगा।

लू कांग ने कहा कि चीन-भारत सीमा का सिक्किम भाग ऐतिहासिक संधि के मुताबिक तय किया गया था। चीन ऐतिहासिक सीमा संधि के मुताबिक इस क्षेत्र में अपनी प्रभुसत्ता के अधिकारों का प्रयोग करेगा। हम भारतीय सेना से ऐतिहासिक सबक लेकर ऐतिहासिक संधि का पालन करने और सीमांत क्षेत्रों की शांति को बनाये रखने की मांग करते हैं। भारत को दोनों देशों के नेताओं के बीच संपन्न सहमतियों के अनुसार रचनात्मक तौर पर द्विपक्षीय संबंधों से निपटारा करना चाहिये जो पूरे क्षेत्र और भारत के हित में है।

( हूमिन )

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी