आरएमबी के भुगतान मुद्रा बनने से चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर के निर्माण के लिए लाभदायक

2018-01-18 19:03:00

चीनी जन बैंक के अधीनस्थ उरुमचि शाखा से खबर मिली है कि पाकिस्तान के राष्ट्रीय बैंक ने हाल में चीन के साथ द्विपक्षीय व्यापार में चीनी मुद्रा रनमिनबी (आरएमबी) के उपयोग की पुष्टि की, यानि दोनों देश आरएमबी में लेन-देन कर सकेंगे। इस बैंक ने बयान जारी कर कहा कि पाकिस्तान और चीन के सार्वजनिक और निजीगत कारोबार द्वीपक्षीय व्यापार और निवेश में स्वतंत्र रूप से आरएमबी का प्रयोग कर सकेंगे। विश्लेषकों के विचार में इस कदम से चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर के निर्माण, शिनच्यांग वेवुर स्वायत्त प्रदेश में विदेशी व्यापार की स्थिरता और वृद्धि को आगे बढ़ाने के लिए सक्रिय होगा।

गौरतलब है कि साल 2010 से ही शिनच्यांग में आरएमबी के सीमा पार व्यापार शुरु हुआ, इधर के सालों में इसका पैमाना तेज़ गति से बढ़ रहा है। हिसाब मुद्रा के नाते आरएमबी का व्यापार 2010 में 5 अरब युआन से कम होने से 2017 में 2 खरब 61 अरब युआन तक पहुंच गया। खास कर 2013 में“बेल्ट एंड रोड”का प्रस्ताव पेश किए जाने के बाद से लेकर अब तक सीमा पार आरएमबी की भुगतान मात्रा 5 गुना बढ़ गई है।

उरुमचि बैंक के संबंध अधिकारी के मुताबिक चीन और पाकिस्तान के आर्थिक और व्यापारिक आवाजाही में आरएमबी का भुगतान मुद्रा बनने से चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर के निर्माण को आगे बढ़ाया जाएगा, दोनों देशों के बीच उत्पादन क्षमता के क्षेत्र में सहयोग को मज़बूत किया जाएगा, और इसके साथ ही द्विपक्षीय व्यापार व निवेश को भी सुविधा मिलेगी।

(श्याओ थांग)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी