कानूनी चुनाव अवधि बनी रहने के इराक के सुप्रीम कोर्ट का निर्णय

2018-01-22 11:31:04

इराक के सुप्रीम कोर्ट ने 21 जनवरी को यह निर्णय किया कि संविधान में निर्धारित संसदीय चुनाव की समय सीमा बदल नहीं सकती है। इस निर्णय से चुनाव स्थगित करने या न करने के मामले पर इराक के विभिन्न राजनीतिक पक्षों के बीच विवाद खत्म होने की संभवना है।

सुप्रीम कोर्ट के प्रवक्ता ने उस दिन एक वक्तव्य में कहा कि संसद द्वारा 21 तारीख को दिए गए एक आवेदन के आधार पर सुप्रीम कोर्ट ने संविधान के अनुच्छेद 56 के अनुसार यह निर्णय लिया कि विभिन्न पक्षों को इस अनुच्छेद पर निर्धारित संसदीय चुनाव की समय सीमा का पालन करना चाहिए।

इराक के संविधान के अनुच्छेद 56 के अनुसार नई संसद का चुनाव वर्तमान संसद की अवधि-समाप्ति से 45 दिन पहले आयोजित किया जाता है। 1 जुलाई को वर्तमान संसद की अवधि पूरी होगी, इसलिए संसद चुनाव 16 मई से पहले आयोजित होना चाहिए।

इससे पहले इराक के प्रधानमंत्री हैदर अल-आबादी की सरकार ने 12 मई को संसद चुनाव का आयोजन करने का फैसला किया है। लेकिन वर्तमान संसद में इस फैसले की पुष्टि करने की ज़रूरत है।

(वनिता)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी