​“बेल्ट एंड रोड”चीन का भू-रणनीतिक साधन नहीं है : चांग येश्वेइ

2018-03-04 16:35:05

साल 2018 चीन द्वारा प्रस्तुत“बेल्ट एंड रोड”प्रस्ताव की 5वीं वर्षगांठ है। 13वीं एनपीसी के पहले सम्मेलन के प्रवक्ता चांग येश्वेई ने 4 मार्च को पेइचिंग में कहा कि तथाकथित“बेल्ट एंड रोड”चीन का भू-रणनीतिक साधन वाला कथन“बेल्ट एंड रोड”प्रस्ताव की गलत समझ है।

उन्होंने कहा कि“बेल्ट एंड रोड”आपसी संपर्क की प्रधानता देने, आपसी लाभ और उभय जीत को लक्ष्य बनाने वाला आर्थिक सहयोग का प्रस्ताव है, जिसका उद्देश्य एक दूसरे की आपूर्ति से विश्व आर्थिक वृद्धि और विभिन्न देशों के समान विकास को अधिक मौका प्रदान करना है।“बेल्ट एंड रोड”का सिद्धांत समान विचार विमर्श, समान निर्माण और समान उपभोग है, जिसमें भाग लेने वाले सभी पक्ष समानता के साझेदार हैं।“बेल्ट एंड रोड”का निर्माण एक खुला और समावेश मंच है, इसमें किसी भी देश का बहिष्कार नहीं किया जाता और किसी भी देश के खिलाफ़ नहीं है। इस प्रस्ताव पर रुचि रखने वाले देशों के लिए खोला जाता है।

चांग येश्वेई ने यह भी कहा कि पिछले पाँच सालों में विभिन्न पक्षों के समान प्रयास से“बेल्ट एंड रोड”के निर्माण में फलदायी उपलब्धियां हासिल हुईं। बुनियादी संस्थापन से जुड़े आपसी संपर्क में प्रारंभिक कामयाबियां प्राप्त हुईं, नीतिगत संपर्क लगातार गहरा हुआ, सहयोग व्यवस्था में निरंतर संपूर्ण हुआ और विभिन्न क्षेत्रों में व्यापक सहयोग किया गया। इन फलों से देखा जा सकता है कि“बेल्ट एंड रोड”प्रस्ताव सहयोग और उभय जीत वाली युगात्मक धारा से मेल ही नहीं खाता, बल्कि लोगों के समान विकास वाली आम इच्छा के अनुकूल भी है।

उन्होंने बल देते हुए कहा कि“बेल्ट एंड रोड”का निर्माण प्रारंभिक दौर में है, सभी नई चीज़ों की तरह उसके सामने तरह-तरह की चुनौतियां पैदा होना सामान्य बात है। चीन“बेल्ट एंड रोड”के निर्माण के हित में इसे आगे बढ़ाने से जुड़ी सक्रिय और रचनात्मक राय का स्वागत करता है।

(श्याओ थांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी