यूएन में तिब्बती भाषा के प्रयोग, संरक्षण और विकास का परिचय

2018-03-10 18:02:03

चीन के मानवाधिकार अनुसंधान सोसाइटी के प्रतिनिधि ने 9 मार्च को जिनेवा में संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद की 37वीं बैठक की मानवाधिकार संबंधित जनरल बहस में भाषण दिया। उन्होंने भाग लेने आए विभिन्न देशों की सरकारों, संबंधित अंतरराष्ट्रीय संगठनों व गैर-सरकारी संगठनों को तिब्बती भाषा का प्रयोग, संरक्षण और विकास संबंधी स्थिति से अवगत कराया।

चीन की मानवाधिकार परिषद के निदेशक और चीनी एकेडमी ऑफ सोशल साइंसेस के आधुनिक इतिहास संस्थान के शोधकर्ता जा लो ने कहा कि चीनी संविधान और जातीय क्षेत्रीय स्वायत्तता अधिनियम के अनुसार सभी जातीय समूहों को अपनी भाषा का इस्तेमाल करने का अधिकार है। तिब्बती भाषा तिब्बत की स्थानीय भाषा है, जो राष्ट्रीय आम भाषा के बराबर प्रभावी है।

(नीलम)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी