संविधान संशोधन प्रस्ताव चीनी विशेषता वाले समाजवाद के लिए प्रबल गारंटी देगा

2018-03-12 16:02:05

11 मार्च को 13वीं एनपीसी के पहले पूर्णाधिवेशन की तीसरी बैठक बुलायी गयी। संविधान का संशोधन प्रस्ताव सही ढंग से पारित किया गया। एनपीसी के प्रतिनिधि, मकाओ स्थित चीनी केंद्रीय सरकार की संपर्क दफ्तर के प्रधान जंग श्याओसोंग ने पत्रकार के साथ साक्षात्कार में कहा कि इस बार संविधान संशोधन प्रस्ताव पर विचार विमर्श की प्रक्रिया से पूरी तरह लोकतंत्र प्रतिबिंबित हुआ है। यह पार्टी का नेतृत्व करने, जनता का स्वनिर्णय लेने और कानून के मुताबिक देश का प्रशासन करने की यथार्थ कार्यवाही है, साथ ही चीनी विशेषता वाले समाजवादी लोकतांत्रिक राजनीति की श्रेष्ठता का प्रतिबिंब भी है।

जंग श्याओसोंग ने बताया कि संविधान संशोधन का मकसद संविधान को और अच्छी तरह कार्यान्वित करना है। उन्होंने जोर दिया कि एक देश दो व्यवस्था के सिद्धांत का तमाम कार्यान्वयन करने के लिए संविधान और बुनियादी कानून के मुताबिक कड़ाई से काम करना चाहिए। इस साल मकाओ में बुनियादी कानून के जारी होने की 25वीं वर्षगांठ है। मकाओ में लोगों को बुनियादी कानून को सीखकर इस का प्रसार करने के साथ साथ संविधान का सम्मान करना चाहिए, संविधान का पालन कर रक्षा करनी चाहिए।

(श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी