एनपीसी के विधायी कार्य और पर्यवेक्षण कार्य का महत्व लोगों के मूल हितों की गारंटी

2018-03-13 15:02:00

13वीं एनपीसी के पहले पूर्णाधिवेशन ने 12 मार्च को संवाददाता सम्मेलन का आयोजन किया। एनपीसी के संबंधित विभागों के प्रधान ने विधायी कार्य और पर्यवेक्षण कार्य के संबंधित मामलों पर देशी-विदेशी संवाददाताओं के सवालों के जवाब दिए।

एनपीसी की स्थाई समिति की वातावरण और संसाधन संरक्षण समिति की सदस्य लूई छाईश्या ने कहा कि पारिस्थितिक सभ्यता निर्माण को आगे बढ़ाने के क्षेत्र में 12वीं एनपीसी की स्थाई समिति ने लोगों के मूल हितों की गारंटी को विधान उद्देश्य बनाकर चीन की राष्ट्रीय स्थिति से वायुमंडलीय और जल प्रदूषण जैसे व्यावहारिक मुद्दों का प्रमुख रूप से समाधान किया गया।

पर्यवेक्षण कार्य पर एनपीसी की स्थाई समिति और वातावरण और संसाधन संरक्षण समिति ने समस्या-उन्मुख होकर लगातार 5 वर्षों में विशेष जांच और अन्य कई तरीके से संबंधित पर्यवेक्षण कार्य गहन रूप से किया ।

12वीं एनपीसी की स्थाई समिति के अध्यक्ष च्यांग द च्यांग ने हाल ही में कहा कि विधान की संख्या अधिक है, वज़न भारी है, गति तेज़ है और प्रभाव अच्छा है। संविधान के केंद्र वाले चीनी विशेषता वाले समाजवाद की व्यवस्था में आगे सुधार और विकास किया जा रहा है।

एनपीसी की स्थाई समिति की कानूनी कार्य समिति के उप प्रधान वांग छाओ यिंग ने 12 तारीख को कहा कि दो कदमों वाले विधायी विचार से नागरिक कानून के सामान्य सिद्धांत पारित होने के बाद नागरिक संहिता के विभिन्न कार्य वर्तमान में व्यवस्थित रूप से शुरू हुए।(वनिता)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी