चीन कभी भी विस्तार नहीं करेगा, अपने कार्य में लगेगा

2018-03-20 16:02:01

चीनी प्रधानमंत्री ली खछ्यांग ने 20 मार्च को पेइचिंग में कहा कि चीन कभी भी विस्तार की नीति नहीं अपनाएगा, पूरी कोशिशों से अपने कार्यों को अच्छी तरह करेगा।

ली खछ्यांग ने कहा कि चीन एक विकासशील देश है और विस्तार करना नहीं चाहता है। चाहे भविष्य में चीन मजबूत हो, तो प्रभुत्तव के रास्ते पर नहीं चलेगा। चीन एक दूसरे के सम्मान, समानता और पारस्परिक लाभ के आधार पर विभिन्न देशों के साथ संबंध का विकास करना, समान रूप से मानव समुदाय के साझे भविष्य का निर्माण करना चाहता है। इधर के वर्षों में विश्व आर्थिक वृद्धि में चीन का योगदान दर 30 प्रतिशत से भी अधिक रहा है। यह विश्व आर्थिक बहाली के अनुकूल होने के साथ विश्व शांति के लिए योगदान भी है।

ली खछ्यांग ने कहा कि चीन देश की अखंडता की रक्षा करेगा, अपनी एक इंच की भूमि नहीं खो सकता है और अन्य देश की एक इंच की भूमि पर अतिक्रमण नहीं करेगा। चीन शांतिपूर्ण और विकास के रास्ते पर कायम रहेगा। उन्होंने कहा कि चीन का विगत विकास शांतिपूर्ण अंतर्राष्ट्रीय वातावरण में प्राप्त हुआ, भविष्य आधुनिकीकरण का एहसास किये जाने में शांतिपूर्ण अंतर्राष्ट्रीय वातावरण भी चाहिए।

ली खछ्यांग ने कहा कि चीन पूरी कोशिशों से अपने कार्य अच्छी तरह करेगा, विकास के दौरान अनेक कठिनाइयां और चुनौतियां भी मौजूद हैं। चीन को आशा है कि शांतिपूर्ण और स्थिर अंतर्राष्ट्रीय और क्षेत्रीय वातावरण स्थापित होगा।

(वनिता)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी