चीन-उ. कोरिया संबंध के बड़े रुझान को पकड़े : चीन

2018-03-28 21:02:01

चीनी समाचार एजेंसी शिनहुआ ने 28 मार्च को “वैश्विक विकास और चीन-उत्तर कोरिया संबंध के बड़े रुझान को पकड़ना” शीर्षक टिप्पणीकार लेख प्रकाशित किया, जिसमें कहा गया कि चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के निमंत्रण पर उत्तर कोरियाई शीर्ष नेता किम जोंग-उन 25 से 28 मार्च तक चीन की अनौपचारिक यात्रा की। इस दौरान शी चिनफिंग और किम जोंग-उन के बीच सदिच्छापूर्ण और मित्रवत वार्ता की। दोनों ने चीन और उत्तर कोरिया के बीच पारंपरिक मैत्री को आगे बढ़ाने में सहमति जताई और अंतरराष्ट्रीय तथा कोरियाई प्रायद्वीप स्थिति को लेकर गहन रुप से विचारों का आदान प्रदान किया और व्यापक आम सहमतियां भी प्राप्त कीं। खास समय पर मौजूदा यात्रा बहुत सार्थक है, जो चीन और उत्तर कोरिया के बीच संपर्क, सहयोग, दोनों पर्टियों के बीच संबंधों को आगे बढ़ाने में मददगार सिद्ध होगा। प्रायद्वीप की तनावपूर्ण स्थिति में शैथिल्य लाने, क्षेत्रीय शांति, स्थिरता और विकास को मज़बूत करने में सक्रिय ऊर्जा संचार हुआ और साथ ही साथ महत्वपूर्ण योगदान भी किया गया।

लेख में बल देते हुए कहा गया कि चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की 18वीं राष्ट्रीय कांग्रेस के बाद से लेकर अब तक राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने खुद राजाध्यक्ष कूटनीति वाली रंगारंग चित्र चित्रित की। उन्होंने जनता के लाभ के आधार पर देश और विश्व पर जिम्मेदारी उठाने वाली भावना सहित उच्च बुद्धि से जटिलपूर्ण अंतरराष्ट्रीय और घरेलू स्थिति पर काबू किया और आपसी सम्मान, न्याय और निष्पक्ष, सहयोग व उभय जीत वाले नए अंतरराष्ट्रीय संबंध के निर्माण को आगे बढ़ाया। वर्तमान में कोरियाई प्रायद्वीप में सक्रिय परिवर्तन आया है। इसी दौरान चीन ने अहम भूमिका निभाई। तथ्यों से जाहिर है कि शी चिनफिंग से केंद्रित पार्टी की केंद्रीय समिति द्वारा कोरियाई प्रायद्वीप मामले को लेकर बनाई गई रणनीति, उसुल, निर्णय और इंतजाम बिलकुल सही है।

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी