आईएमएफ़ की चेतावनी : व्यापार घर्षण के बढ़ने से एशिया प्रशांत की अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचेगा

2018-04-21 16:34:01

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष के एशिया प्रशांत ज़ोन के निदेशक चैंगयांग री ने 20 अप्रैल को कहा कि कई देशों की संरक्षणवाद से व्यापार घर्षण बढ़ रहा है, जो एशिया प्रशांत के आर्थिक विकास के लिए खतरनाक है।

चैंगयांग री ने उसी दिन एशिया प्रशांत के आर्थिक आउटलुक प्रेस सम्मेलन में कहा कि सभी देशों को मौजूदा नियम-आधारित बहुपक्षीय तंत्र के जरिए व्यापार घर्षण का समाधान करना चाहिए। तथाकथित व्यापार संघर्ष में कोई विजेता नहीं होगा। उन्होंने कहा कि मौजूदा बहुपक्षीय व्यापार तंत्र ने एशिया प्रशांत में आर्थिक विकास को बढ़ावा दिया है। इसके साथ एशिया प्रशांत ने मौजूदा बहुपक्षीय व्यापार तंत्र के सुधार के लिए बड़ा योगदान भी किया है। सुधार को बढ़ावा देने, आर्थिक विकास की गुणवत्ता में सुधार लाने, सेवा उद्योग को खोलने आदि से एशियाई अर्थव्यवस्थाएं ज्यादा अच्छी तरह बहुपक्षीय व्यापार तंत्र की रक्षा कर सकेंगी।

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष के एशिया प्रशांत ज़ोन के उप निदेशक मार्कस रोदलोर ने उसी दिन भी कहा कि एशिया प्रशांत की अर्थव्यवस्था को वैश्विक व्यापार में से लाभ मिला है। कुशल वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला नेटवर्क से न सिर्फ़ एशिया में उत्पादक देशों को लाभ मिला है, बल्कि अमेरिका जैसे उपभोक्ता देशों को भी। इसलिए खुली बहुपक्षीय व्यापार तंत्र वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

(नीलम)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी