चीन व भारत के बीच सहयोग की व्यापक निहित शक्ति

2018-04-26 19:37:02

चीन व भारत के नेता 27 से 28 अप्रैल को चीन के हूपेई प्रांत के वूहान शहर में अनौपचारिक भेंट करेंगे। इसकी चर्चा में चीनी वाणिज्य मंत्रालय के प्रवक्ता काओ फ़ंग ने 26 अप्रैल को पेइचिंग में कहा कि चीन व भारत दोनों बड़े विकासशील देश हैं, और मुख्य नवोदित आर्थिक समुदाय भी हैं। दोनों का अंदरूनी बाजार बहुत बड़ा है। चीन व भारत अर्थव्यवस्था में एक दूसरे के पूरक हैं। और सहयोग की निहित शक्ति बहुत बड़ी है।

काओ फ़ंग के अनुसार चीन व भारत के नेता इस अनौपचारिक भेंट में चीन-भारत संबंधों के व्यापक, दीर्घकालीन, व रणनीतिक मामलों पर गहन रूप से विचार-विमर्श करेंगे, और वर्तमान में विश्व के महत्वपूर्ण मामलों पर आदान-प्रदान करेंगे। काओ फ़ंग ने कहा कि हाल के कई वर्षों में दोनों देशों के नेताओं के समर्थन से चीन-भारत का आर्थिक व व्यापारिक सहयोग तेजी से बढ़ रहा है। वर्ष 2017 में चीन-भारत द्विपक्षीय व्यापार 84 अरब 40 करोड़ अमेरिकी डॉलर था, जो इतिहास में एक नया रिकॉर्ड बना। साथ ही वह वर्ष 2016 की अपेक्षा 20.3 प्रतिशत से अधिक रहा।

काओ फ़ंग ने कहा कि चीनी वाणिज्य मंत्रालय इस बार दोनों नेताओं द्वारा प्राप्त होने वाली महत्वपूर्ण सहमतियों को लागू करेगा। वहीं दोनों के बहुपक्षीय व द्विपक्षीय सहयोग को मजबूत करेगा। साथ ही दोनों देशों के लिये सहयोग, आपसी लाभ व दोनों के लिए जीत की नयी स्थिति बनाएगा।

चंद्रिमा

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी