नाटो के रक्षा मामले और अमेरिका-यूरोप व्यापार को लेकर जर्मनी पर दबाव डाला ट्रम्प ने

2018-04-28 18:32:12

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने 27 अप्रैल को व्हाइट हाउस में अमेरिका के दौरे पर आई जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल से बात करते नाटो रक्षा और यूएस-यूरोपीय व्यापार के मुद्दों पर जर्मनी पर फिर से दबाव डाला।

ट्रम्प ने उसी दिन आयोजित संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा कि अमेरिका ने नाटो सैन्य व्यय में "भारी बोझ" सहन किया है। यूरोपीय देशों को इससे और अधिक मदद मिलती है। जर्मनी सहित नाटो सहयोगियों को रक्षा खर्च में अधिक योगदान देना चाहिये। मर्केल ने इसके तहत कहा कि वर्ष 2019 तक जर्मनी का रक्षा खर्च जीडीपी का 1.3% होगा और यह 2% लक्ष्य के करीब आ रहा है।अमेरिका-यूरोप के बीच व्यापार के बारे में बात करते हुए ट्रम्प ने कहा कि अमेरिका और जर्मनी, यूरोपीय संघ के बीच एक "पारस्परिक संबंध" स्थापित नहीं हुए हैं। यूरोपीय संघ के साथ अमेरिकी व्यापार घाटा 151 अरब अमेरिकी डॉलर तक पहुंच गया है। उम्मीद है कि भविष्य में अमेरिका और यूरोपीय संघ के बीच एक और "निष्पक्ष" और "पारस्परिक" संबंध स्थापित किए जा सकेंगे।

इसके अलावा, ट्रम्प और मर्केल ने ईरानी परमाणु मुद्दे पर भी बातचीत की। मर्केल के मुताबिक, परमाणु समझौता ईऱानी परमाणु बलों के विकास को धीमा करने का "पहला कदम" है। लेकिन उन्होंने कहा कि वर्तमान यह समझौता "पर्याप्त" नहीं है। भविष्य में,इस मुद्दे से निपटने के लिए यूरोप और अमेरिका को "एकजुट होना होगा"।

अंजली

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी