तंजानिया : जल परियोजनाओं के उपक्रम के लिए भारत से लेगा ऋण

2018-05-08 15:32:06

तंजानिया सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने सोमवार को कहा कि तंजानिया सरकार भारत सरकार के साथ जल परियोजनाओं के उपक्रम के लिए 500 मिलियन अमेरिकी डॉलर के ऋण को सुरक्षित करने के लिए अंतिम वार्ता में थी।

पूर्वी अफ्रीकी देश के जल और सिंचाई मंत्री, इसाक कामवेलवे ने राजधानी डोदोमा में नेशनल असेंबली को बताया कि पानी परियोजनाओं से देश के कई हिस्सों में पानी की किल्लत खत्म हो जाएगी, जो पूर्वी अफ्रीका की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है।

सदन में जल और सिंचाई मंत्रालय के लिए बजट प्रस्तावों को पेश करते हुए, कामवेलवे ने कहा कि सरकार ऋण अनुबंध पर हस्ताक्षर करने से पहले भारत सरकार के साथ वार्ता को अंतिम रूप दे रही है।

उन्होंने कुछ क्षेत्रों का नाम लिया जो ऋण से लाभान्वित होंगे, जैसे मुहज़ा, वांगिंगोम्बे, मकाम्बाको, कायंगा, सोन्गा, ज़ांज़ीबार, नोजोम्बे, मुगुमु, मोनोनी, सिक्ंज, कसुलु, रुजवा, किल्वा मासोको, गीता, चुन्या और मकोंदे।

कामवेलवे ने कहा, "इन क्षेत्रों में पानी की बेहद किल्लत है।"

मंत्री ने कहा कि उन लोगों को कठोर दंड देने के लिए सरकार जल कानूनों में संशोधन करने जा रही है जो पानी के बुनियादी ढांचे के साथ छेड़छाड़ या उसे नष्ट करते हैं।

बता दें कि पिछले साल नवंबर में, पर्यावरण के लिए उत्तरदायी उप-राष्ट्रपति कार्यालय में तंजानिया के राज्य मंत्री, जनवरी मकाम्बा ने देश के सभी स्थानीय सरकारी अधिकारियों को सुरक्षा के लिए सभी जल स्रोतों की सूची लेने का निर्देश दिया था।

(अखिल पाराशर)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी