चीन-जापान संबंध का सुधार और विकास द्विपक्षीय हितों से मेल खाता है

2018-05-10 17:41:04

चीन-जापान संबंध का सुधार और विकास द्विपक्षीय हितों से मेल खाता है

9 मई की रात को चीनी प्रधानमंत्री ली खछ्यांग जापान की राजधानी तोक्यो में जापानी प्रधानमंत्री शिनजो आबे से वार्ता करने के बाद एक साथ मीडिया से रूबरू हुए।

मौके पर ली खछ्यांग ने दोनों नेताओं की भेंटवार्ता की उपलब्धि का परिचय दिया। उन्होंने जोर दिया कि चीन-जापान संबंध का सुधार और विकास द्विपक्षीय देशों के हितों से मेल खाता है और क्षेत्रीय शांति, स्थिरता व समृद्धि के लिए भी लाभदायक है। इस साल चीन-जापान शांतिपूर्ण मैत्री संधि की स्थापना की 40वीं वर्षगांठ है। दोनों को संधि की भावना का सिंहावलोकन कर द्विपक्षीय संबंध के राजनीतिक आधार को प्रगाढ़ करना चाहिए।

ली खछ्यांग ने कहा कि दोनों पक्ष चीन-जापान चार राजनीतिक दस्तावेजों के विभिन्न सिद्धांतों का कड़ाई से पालन करेंगे, इतिहास और थाईवान संबंधी संवेदनशील समस्याओं का अच्छी तरह निपटारा करेंगे और यथार्थ कार्यवाइयों से राजनीतिक सहमति को प्रतिबिंबित करेंगे। दोनों नेताओं ने यह सहमति प्राप्त की कि राजनीतिक आपसी विश्वास को मजबूत कर आर्थिक सहयोग को आगे बढ़ाऐंगे, नवाचार क्षेत्र के सहयोग को आगे विकसित करेंगे, वित्त, पर्यावरण संरक्षण, उच्च व नवीन तकनीक, शेयर अर्थव्यवस्था और चिकित्सा आदि क्षेत्रों के सहयोग को प्रगाढ़ करेंगे, तीसरे पक्ष की बाजार सहयोग प्रणाली की स्थापना कर प्रबल अंतर्राष्ट्रीय प्रतिस्पर्द्धा शक्ति की रचना करेंगे, द्विपक्षीय सांस्कृतिक आदान प्रदान को मजबूत कर दोनों देशों के नागरिकों की मानसिक दूरी को कम करेंगे।

शिनजो आबे ने ली खछ्यांग की जापान यात्रा का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि पिछले साल दोनों देशों के संबंधों में सुधार का अच्छा मौका आया है। उन्होंने ली खछ्यांग के साथ अनेक अहम सहमतियां संपन्न की। दोनों ने समुद्री व वायु संपर्क प्रणाली की स्थापना करने और एक साथ समुद्री संकट को नियंत्रित करने पर मंजूरी दी, ताकि पूर्वी सागर को एक शांति, सहयोग व मैत्री का सागर बनाया जा सके। दोनों पक्षों ने पूंजी निवेश के सहयोग का विस्तार करने, तीसरे पक्ष का सहयोग करने, संयुक्त रूप से फिल्म शुटिंग करने आदि पर नये मतैक्य प्राप्त किये। यह न सिर्फ दोनों देशों के सहयोग को गहरा करने के लिए लाभदायक होगा, बल्कि द्विपक्षीय जनता के बीच आदान प्रदान और आपसी समझ को भी प्रबल रूप से आगे बढ़ाया जा सकता है। जापान चीन के साथ उभय प्रयास कर द्विपक्षीय संबंधों के स्वस्थ व स्थिर विकास को बरकरार रखना चाहता है।

(श्याओयांग)

 

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी