चीनी तिब्बती प्रतिनिधि मंडल ने अमेरिका की यात्रा की

2018-05-15 10:33:02

चीनी नेशनल पीपल्स कांग्रेस तिब्बती प्रतिनिधि मंडल ने 9 से 14 मई तक अमेरिका की यात्रा की। वाशिंगटन में प्रतिनिधि मंडल ने अमेरिकी सिनेटर दैन सुलिवान, कांग्रेसमेन दारिन लाहूद, रिक लारसेन, जिम मैकगवर्न और विदेश मंत्रालय के संबंधित अधिकारियों से भेंट की और अलग-अलग तौर पर कांग्रेसमेन के सहायकों और अमेरिकी कांग्रेस के अध्ययन विभाग के विशेषज्ञों के साथ बैठक की। सेन फ्रैंसिस्को में प्रतिनिधि मंडल ने चीनी मूल प्रवासियों और तिब्बती बंधुओं के साथ विचारों का आदान प्रदान किया।

अमेरिकी पक्ष के साथ मुलाकात में प्रतिनिधि मंडल के प्रमुख और ल्हासा शहर की सीपीसी समिति के सचिव बाइमावांगतू ने बताया कि तिब्बत की शांतिपूर्ण मुक्ति के 60 से अधिक वर्षों में विभिन्न कार्यो में बड़ा विकास हुआ और जनता के अधिकारों और मुक्ति को सुनिश्चित किया गया ,जो सर्वविदित तथ्य है ।उन्होंने बल देते हुए कहा कि तिब्बत संबंधी सवाल चीन की प्रभुसत्ता, प्रादेशिक अखंडता और केंद्रीय हितों से जुड़े हुए हैं ।तिब्बती मामला एकदम चीन का अंदरूनी मामला है ,जिसमें किसी भी अन्य देशों को हस्तक्षेप करने का अधिकार नहीं है ।आशा है कि अमेरिकी पक्ष तिब्बत संबंधी सवाल के महत्व और संवेदनशीलता को समझकर दलाई ग्रुप का चीन का विरोध और विभाजन करने का स्वरूप पहचानेगा और दलाई ग्रुप के सरगना की यात्रा की अनुमति नहीं देगा और उन के साथ किसी तरह का संपर्क नहीं करेगा ।

अमेरिकी पक्ष ने कहा कि अमेरिका तिब्बत को चीन का एक अंग मानता है और तथाकथित तिब्बती स्वतंत्रता का समर्थन नहीं करता ।इस पक्ष में कोई बदलाव नहीं आया है ।(वेइतुंग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी