ली खछ्यांग की त्रिनिदाद और टोबैगो गणराज्य के प्रधानमंत्री से भेंट

2018-05-15 17:03:02

चीन चाहता है कि त्रिनिदाद और टोबैगो गणराज्य को “एक पट्टी एक मार्ग” पहल में शामिल हो, जिससे बुनियादी सुविधाओं का निर्माण, ऊर्जा, वित्त और कृषि आदि क्षेत्रों में दोनों देशों के बीच सहयोग मजबूत होगा। 14 मई को दोपहर बाद पेइचिंग में चीन की आधिकारिक यात्रा करने वाले त्रिनिदाद और टोबैगो गणराज्य के प्रधानमंत्री कीथ रोली से मुलाकात करने के दौरान चीनी प्रधानमंत्री ली खछ्यांग ने यह बात कही।

ली खछ्यांग ने कहा कि चीन चीनी उद्यमों को बाजार के सिद्धांतों और व्यापार नियमों के अनुसार त्रिनिदाद और टोबैगो गणराज्य में निवेश करने के लिये प्रोत्साहन देता है। चीन आर्थिक विकास और लोगों की आजीविका में सुधार करने के लिये त्रिनिदाद और टोबैगो गणराज्य को समर्थन देना चाहता है। वर्ष 2019 में चीन और त्रिनिदाद और टोबैगो गणराज्य के बीच राजनयिक संबंध स्थापित करने की 45 वर्षगांठ होगी। इस मौके पर दोनों देशों को शिक्षा, संस्कृति, खेल और पर्यटन आदि क्षेत्रों में आदान-प्रदान करना चाहिये। साथ ही दोनों पक्षों को वीज़ा के आवेदन की सुविधा को मजबूत करना चाहिये।

प्रधानमंत्री ली खछ्यांग ने अपील की कि चीन और लैटिन अमेरिकी व कैरीबियाई देश विकासशील देश हैं। दोनों पक्ष आपसी विकास मौके के रूप में हैं। उम्मीद है कि त्रिनिदाद और टोबैगो गणराज्य चीन-लैटिन अमेरिका संबंध और चीन-कैरीबिया संबंध के विकास पर रचनात्मक भूमिका डालेगा।

कीथ रोली ने कहा कि त्रिनिदाद और टोबैगो गणराज्य एक चीन सिद्धांत का समर्थन करता है। वे चीन के बीच “एक पट्टी एक मार्ग” प्रस्ताव, स्वास्थ्य देखभाल और वित्त आदि क्षेत्रों में सहयोग का विकास चाहते हैं।(हैया)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी