2018 गरीबी कम करने पर वैश्विक संगोष्ठी रोम में आयोजित

2018-06-06 16:12:04

2018 गरीबी कम करने पर वैश्विक संगोष्ठी 5 जून को इटली के रोम में आयोजित हुई।

संयुक्त राष्ट्र के खाद्य एवं कृषि संगठन (एफएओ), कृषि विकास के लिए अंतर्राष्ट्रीय फंड(आईएफएडी), विश्व अनाज कार्यक्रम(डब्ल्यूएफपी), चीन में अंतरराष्ट्रीय संपत्ति कमी केंद्र (आईपीआरसीसी) और चीन इंटरनेट सूचना सेंटर (सीएनटीआई) ने इस संगोष्ठी का संयुक्त आयोजन किया। चीन, घाना, केन्या और सेनेगल के प्रतिनिधि, इतालवी विश्वविद्यालयों के विद्वानों समेत 90 से अधिक लोगों ने इस संगोष्ठी में भाग लिया। इस बार की संगोष्ठी का विषय भागीदारी और ज्ञान को बढ़ाना और संयुक्त राष्ट्र के सतत विकास लक्ष्य को पूरा करना है।

चीन राज्य परिषद के गरीबी उन्मूलन कार्यालय के उप प्रमुख ओ फिंग छिंग ने भाषण दिया कि वर्ष 2012 चीनी गरीब जनसंख्या 9.899 करोड़ थी। पिछले 5 वर्षों के प्रयास से वर्ष 2017 चीनी गरीब जनसंख्या 3.046 करोड़ बनी। जबकि वर्ष 2012 चीन में गरीबी की घटना दर 10.2 प्रतिशत थी। वर्ष 2017 चीन में गरीबी की घटना दर 3.1 प्रतिशत बनी। चीन में सुधार और खुलेपन की नीति लागू किये जाने के 40 सालों में चीन में 70 करोड़ से अधिक लोगों को गरीबी से बाहर निकाला गया। चीन सभी विकासशील देशों के साथ अपने अनुभवों को बांटना चाहता है और विश्व गरीबी कम करने के कार्य में और से बड़ा योगदान देना चाहता है।

एफएओ के गरीबी न्यूनीकरण कार्यक्रम प्रबंधन टीम के सामरिक योजना अधिकारी बेंजामिन डेविस ने भाषण दिया कि वर्तमान तक पूरी दुनिया में 78.3 लोग चरम गरीबी की स्थिति में रहते हैं। वर्ष 2016 दुनिया में 81.5 लोग भूख के खतरों का सामना करते हैं। गरीबी और भूख का उन्मूलन कार्य काफी मुश्किल है। उन्होंने कहा कि एफएओ और आईपीआरसीसी के बीच सहयोग काफी प्रभावी और उपयोगी है। संबंधित पक्षों को पूरी दुनिया में गरीबी में कमी के बारे अनुभव बांटना चाहिये।(हैया)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी