शांगहाई सहयोग संगठन के छिंगताओ शिखर सम्मेलन में आठ सदस्य देशों का स्वरूप दिखाया जाएगा

2018-06-08 15:03:02

शांगहाई सहयोग संगठन का छिंगताओ शिखर सम्मेलन 9 और 10 जून को आयोजित होगा। यह इस संगठन के सदस्य बढ़ने के बाद का पहला शिखर सम्मेलन है। कुछ राजनयिकों ने कहा कि पिछले वर्ष औपचारिक रूप से शांगहाई सहयोग संगठन में भाग लेने वाले सदस्य भारत और पाकिस्तान ने इस संगठन के दोस्तों में नई शक्ति का संचार किया है, जिससे इस संगठन के विकास पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।

पिछले वर्ष 15 जून को भारत और पाकिस्तान ने औपचारिक रूप से शांगहाई सहयोग संकठन में भाग लिया, जो इस संगठन के औपचारिक सदस्य बने। यह इस संगठन की स्थापना से अब तक पहली बार सदस्य बढ़े हैं।

भारत स्थित चीनी राजदूत ल्वो च्याओ ह्वी का विचार है कि सदस्य बढ़ने से शांगहाई सहयोग संगठन के विकास के लिए नई प्रेरक शक्ति बनायी जाएगी। बड़ी आबादी, विशाल क्षेत्र, प्रचुर संसाधन, विशाल बाजार से शांगहाई सहयोग संगठन का अच्छा भविष्य है, विभिन्न सदस्य देशों के बीच सहयोग का विस्तार किया जा रहा है और इसके साथ मौका भी बढ़ेगा।

चीन स्थित पाकिस्तान के राजदूत मसूद हलिद ने कहा कि शांगहाई सहयोग संगठन क्षेत्रीय संपर्क, व्यापार आवाजाही, आर्थिक सहयोग को आगे बढ़ाने का एक महत्वपूर्ण मंच है। सुरक्षा, राजनीति, अर्थतंत्र और संस्कृति आदि क्षेत्रों में उल्लेखनीय उपलब्धियां हासिल हुईं। इस संगठन का अंतर्राष्ट्रीय प्रभाव लगातार बढ़ने के साथ इस बार के छिंगताओ शिखर सम्मेलन इस संगठन के भविष्य के विकास को स्पष्ट दिशा दिखाई जाएगी। (वनिता)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी