चीन और कजाकिस्तान ने हाथों में हाथ लेकर आगे बढ़ने का फैसला किया

2018-06-08 15:06:02

7 जून को चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने पेइचिंग में कजाकिस्तान के राष्ट्रपति नज़रबायेव के साथ वार्ता की। दोनों राज्याध्यक्षों ने चीन-कजाकिस्तान परंपरागत मित्रता मजबूत कर अपने अपने राष्ट्रीय पुनरुत्थान के रास्ते पर हाथों में हाथ लेकर आगे बढ़ने का फैसला किया।

शी चिनफिंग ने कहा कि कजाकिस्तान चीन का महत्वपूर्ण पड़ोसी देश होने के साथ साथ प्रभाव संपन्न बड़ा क्षेत्रीय देश भी है। चीन कजाकिस्तान संबंध पड़ोसी देशों के बीच मित्रवत संबंधों की मिसाल है।

शी चिनफिंग ने कहा कि पाँच साल पहले जब मैंने पहली बार कजाकिस्तान की यात्रा की थी, तो नज़रबायेव विश्वविद्यालय में पहली बार रेशम मार्ग आर्थिक पट्टी का प्रस्ताव रखा। पाँच साल में एक पट्टी एक मार्ग प्रस्ताव को अंतरराष्ट्रीय समुदाय की सकारात्मक प्रतिक्रिया मिली। इस प्रस्ताव को इसीलिए बड़ी उपलब्धियां प्राप्त हुईं कि वह विश्व शांति और विकास की धारा के अनुकूल है और मार्ग पर स्थित देशों के विकास और सहयोग की व्यावहारिक मांग से मेल खाता है।

शी चिनफिंग ने कहा कि दोनों पक्षों को रेशम मार्ग आर्थिक पट्टी और रोशनीदार मार्ग की नयी आर्थिक नीतियों को जोड़कर उत्पादन ,पूंजी निवेश ,व्यापार ,ऊर्जा ,वित्त और पारस्परिक संपर्क ,कृषि और सृजन के सहयोग को बढ़ाना चाहिए और सांस्कृतिक सहयोग की नयी स्थिति तैयार करनी चाहिए।

नज़रबायेव ने कहा कि चीन का विकास कजाकिस्तान के लिये एक मौका है। कजाकिस्तान नये युग में चीनी विशेषता वाले समाजवादी कार्य का समर्थन करता है और विश्वास है कि उसकी सफलता कजाकिस्तान के हित में है। कजाकिस्तान रोशनीदार मार्ग की नयी आर्थिक नीति और एक पट्टी एक मार्ग को जोड़कर विभिन्न क्षेत्रों के सहयोग बढ़ाना चाहता है ।(वेइतुंग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी