शी चिनफिंग और मोदी के बीच व्यापक आम सहमतियां: चीन

2018-06-12 13:32:01

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग और भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शांगहाई सहयोग संगठन (एससीओ) के छिंगताओ शिखर सम्मेलन में भेंटवार्ता की। उन्होंने द्विपक्षीय संबंधों और समान दिलचस्पी वाले मुद्दों पर विचार-विमर्श किया और व्यापक आम सहमतियां प्राप्त कीं। चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता कंग श्वांग ने 11 जून को यह बात कही।

कंग श्वांग ने एक नियमित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि चीनी और भारतीय नेताओं ने वूहान अनौपचारिक भेंटवार्ता से दोनों देशों के विभिन्न क्षेत्रों के सहयोग में निभाई गई मार्गदर्शन वाली भूमिका का सक्रिय आकलन किया और एक स्वर में माना कि द्विपक्षीय संबंधों की वर्तमान विकसित स्थिति को मूल्यवान समझना चाहिए। वहीं वूहान भेंटवार्ता में प्राप्त आम सहमतियों का शीघ्र ही कार्यान्वयन करते हुए सामरिक संपर्क को बनाए रखना चाहिए। आर्थिक व्यापारिक सहयोग और मानविकी आदान-प्रदान का विस्तार करना चाहिए। ताकि चीन-भारत संबंधों के विकास को आगे बढ़ाया जा सके।

कंग श्वांग के अनुसार, दोनों पक्षों ने मंजूरी दी कि उच्च स्तरीय आवाजाही को बनाए रखा जाए, विभिन्न क्षेत्रों में तांत्रिक आदान प्रदान को मज़बूत किया जाए। साथ ही नए व्यापारिक लक्ष्य को बनाया जाए और दोनों देशों के विदेश मंत्री के नेतृत्व वाली उच्च स्तरीय मानविकी आदान प्रदान व्यवस्था की स्थापना की जाए। भारत ने मुंबई में चीन बैंक की शाखा स्थापित करने से जुड़े अनुमोदन प्रक्रिया को शीघ्र ही समाप्त करने को कहा। दोनों देशों के नेता भारत द्वारा चीन में चावल का निर्यात और सीमा पार नदी से संबंधित जल रिपोर्ट दोनों दस्तावेज़ों पर हस्ताक्षर के साक्षी बने। चीनी प्रवक्ता कंग श्वांग ने कहा कि मौजूदा भेंटवार्ता शी चिनफिंग और मोदी के बीच हुई वूहान मुलाकात के बेहतर माहौल को जारी रखना है, जिससे चीन भारत संबंधों के निरंतर स्वस्थ और स्थिर विकास को आगे बढ़ाया जा सकेगा।

(श्याओ थांग)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी