अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने शांगहाई भावना का सकारात्मक मूल्यांकन किया

2018-06-12 19:02:01

10 जून को एससीओ छिंगताओ शिखर बैठक सम्पन्न हुई। अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने इस शिखर बैठक और शांगहाई भावना का सकारात्मक मूल्यांकन किया।

भारत के जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय के अंतरराष्ट्रीय संबंध कॉलेज के प्रोफेसर स्वर्ण सिंह ने बताया कि पिछले तीन साल में भारत पाकिस्तान के साथ वार्ता नहीं कर सका। लेकिन एससीओ में भाग लेने के बाद पारस्परिक विश्वास और सम्मान की शांगहाई भावना के तहत भारत ने न सिर्फ पाकिस्तान के साथ वार्ता शुरू की, बल्कि संवेदनशील मुद्दे आतंकवाद विरोध पर विचार भी व्यक्त किया। यह एक बहुत अच्छी मिसाल है। इससे हम देख सकते हैं कि शांगहाई भावना एक ढांचागत सिद्धांत प्रस्तुत करती है और तनाव में फंसे दो देशों को फिर बात करने में सहायता दे सकती है।

एससीओ महासचिव राशिद अलिमोव ने बताया कि यह शिखर बैठक शानदार रही, जिसने एससीओ के विकास में नया अध्याय जोड़ा है। एससीओ का भविष्य उज्जवल होगा।

(वेइतुंग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी