अमेरिकी टैरिफ वृद्धि के प्रति चीन ने मुंह तोड़ जवाब दिया

2018-06-16 15:32:01

चीन और अमेरिका के बीच संपन्न हुई समानताओं को नज़रअंदाज़ कर अमेरिकी सरकार ने 15 जून को 50 अरब अमेरिकी डॉलर लागत वाली चीनी वस्तुओं पर 25 प्रतिशत टैरिफ लगाने की सूची जारी की। इसके बाद चीन ने जल्दी से समान पैमाने वाली अमेरिकी वस्तुओं पर 25 प्रतिशत टैरिफ लगाने की सूची सार्वजनिक बनायी।

अमेरिकी अल्पदर्शी कार्रवाई के प्रति चीन ने इस बार अधिक तेज़, शक्तिशाली और सटीक रूप से मुहंतोड़ जवाब दिया, जिससे देश और जनता के हितों और वैश्विक भूमंडलीकरण और बहुपक्षीय व्यापार व्यवस्था की सुरक्षा करने का संकल्प और इच्छा शक्ति जाहिर हुई।

चीन ने जो अमेरिकी वस्तुओं की सूची जारी की है, उसमें कृषि उत्पाद, कार, जलीय पदार्थ, रासायनिक उत्पाद, चिकित्सा उपकरण और ऊजा शामिल है। उल्लेखनीय बात है कि इस अप्रैल में अमेरिका द्वारा चीनी वस्तुओं के खिलाफ प्रारंभिक सूची जारी करने के बाद चीन ने जवाब में सिर्फ 106 आइटम के अमेरिकी उत्पादों की सूची जारी की थी। इस बार चीन ने 659 आइट्म्स के अमेरिकी वस्तुओं की सूची घोषित की।

शांति प्रेमी और सहयोग की वकालत करने वाले देश होने के नाते चीन व्यापार युद्ध नहीं चाहता ।लेकिन चीन ऐसे युद्ध से कतई नहीं डरता। क्योंकि अमेरिकी कार्रवाई ने चीन के सामान्य व्यापार की शर्तों और विश्व की बहुपक्षीय व्यापार व्यवस्था पर गंभीर नुकसान पहुंचाया है। चीन के जवाबी हमले का उद्देश्य चीनी जनता के दूरगामी हितों और सामान्य विश्व व्यापार व्यवस्था की रक्षा करना है।

चीन मजबूरी में लड़ाई लड़ रहा है, पर चीन को इस आत्मरक्षा युद्ध जीतने का विश्वास, क्षमता और अनुभव है। चीन ने जो किया है और कर रहा है, वह युग की धारा, विश्व की आम स्थिति और विश्व जनता की अभिलाषा के अनुरूप है। इस दीर्घकालिक, कठोर और जटिल मुकाबले में न्याय ,समय और लोगों का दिल सब चीन के पास है ।(वेइतुंग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी