चीनी मालों के खिलाफ कर वसुलने से अमेरिकी समाज में असंतोष पैदा हुआ

2018-06-19 16:04:02

अमेरिकी वाइट हाउस ने 18 जून को यह एलान किया कि वह 2 खरब अमेरिकी मूल्य के चीनी मालों के खिलाफ विशेष कर वसुलने की सूचि तैयार करेगा। इससे अमेरिका के वाणिज्य, उद्यम संगठनों और लोकमत में असंतोष पैदा होने लगा है।

अमेरिकी सोयाबीन एसोसिएशन के उप प्रधान डेविड स्टीवन्स ने अपने वक्तव्य में कहा कि व्यापार युद्ध का कोई विजेता नहीं होता है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के कर वसुलने से बाजारों में अधिक अनिश्चितताएं पैदा हो जाएंगी और चीन भी जवाबी कदम उठाएगा। उन्होंने कहा कि चीन अमेरिकी सोयाबीन का सबसे बड़ा बाजार है। चीनी बाजार अमेरिका के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

अमेरिका के "मुक्त व्यापार का समर्थन किसान संगठन" के निर्देशक ब्रायन कुयेहल ने कहा कि अमेरिका में किसानों को अधिकाधिक दबाव का सामना करना पड़ रहा है। वह अमेरिका के सेब संघ आदि संगठनों के साथ-साथ राष्ट्रपति ट्रम्प के कर वसुलने वाले कदम का विरोध करेगा।

अमेरिकी उपकरण निर्माता संघ के उप प्रधान किप एडबर्ग ने कहा कि राष्ट्रपति ट्रम्प के कर वसुलने वाले कदम से पूरे उद्योगधंधों के लिए हानि से भरा कदम है। अमेरिका को रोजगार के मौके कम करने के बजाय और अधिक रोजगार पैदा करना चाहिये।

सीएनएन जैसी अमेरिकी मीडिया के अनुसार संरक्षणवाद के रूझान से विश्व व्यापार और अमेरिका के रोजगार के खिलाफ धमकी दी जा रही है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने चीन, कनाडा, मैक्सिको और यूरोप आदि के खिलाफ कर वसुलने की धमकी दी है, जिससे विश्व व्यापार पर भारी प्रभाव पड़ेगा।

( हूमिन )

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी