रूस और द. कोरिया ने संयुक्त बयान जारी किया

2018-06-23 16:03:05

22 जून को रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति मून जाए-इन ने मास्को में वार्ता करके संयुक्त बयान जारी किया। दोनों पक्षों ने बल देते हुए कहा कि रूस और दक्षिण कोरिया कोरियाई प्रायद्वीप में गैर-नाभिकीकरण की प्राप्ति के लिए लगातार प्रयास करते रहेंगे।

पुतिन ने वार्ता में कहा कि दक्षिण कोरिया एशिया में रूस के प्राथमिकता सहयोगी है। गत वर्ष द्विपक्षीय व्यापारिक रकम में बड़ा इजाफ़ा हुआ, इस वर्ष वृद्धि की स्थिति जारी रही है। पुतिन ने यह भी कहा कि रूस ने कोरियाई प्रायद्वीप की स्थिति के समन्वय में लगातार प्रयास किया।

वहीं, मून जाए-इन ने कहा कि उत्तर कोरिया के गैर-नाभिकीकरण, कोरियाई प्रायद्वीप की स्थिरता और शांति जैसे मसले में दक्षिण कोरिया और रूस के पास समान लक्ष्य है। इसी क्षेत्र में अभी दोनों पक्ष घनिष्ठ सहयोग कर रहे हैं।

वार्ता के बाद दोनों राष्ट्रपतियों ने संयुक्त ब्यान जारी किया। रूसी राष्ट्रपति न्यूज़ वैबसाइट की खबर के अनुसार, इस बयान में दोनों पक्षों ने उत्तर कोरिया और अमेरिका के नेताओं के बीच सिंगापुर हुई वार्ता में प्राप्त सक्रिय फलों का स्वागत किया और आशा जताई कि सिंगापुर भेंटवार्ता में संपन्न समझौता कोरियाई प्रायद्वीप की स्थाई शांति और व्यापक गैर-नाभिकीकरण के लिए मददगार सिद्ध होगा।

ब्यान में रूस और दक्षिण कोरिया के बीच आर्थिक, व्यापारिक और सांस्कृतिक आदि क्षेत्रों में आदान प्रदान और सहयोग को बल दिया गया और साथ ही साथ दोनों पक्षों के बीच सहमत हुए कि रूस, दक्षिण कोरिया और उत्तर कोरिया आर्थिक परियोजनाओं का अनुसंधान और सहयोग करेंगे।

गौरतलब है कि मून जाए-इन 19 जून को मास्को पहुंच कर रूस की 3 दिवसीय यात्रा शुरु की। यह पिछले 19 सालों में दक्षिण कोरिया के पद संभालने वाले राष्ट्रपति की पहली रूस यात्रा है।

(श्याओ थांग)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी