श्वेत पत्र में चीन ने एकपक्षीयवाद व संरक्षणवाद का कड़ा विरोध किया

2018-06-29 17:02:10

चीनी राज्य परिषद के प्रेस कार्यालय ने 28 जून को चीन व विश्व व्यापार संगठन का श्वेत पत्र जारी किया। यह पहली बार जब चीन ने इस मामले पर श्वेत पत्र जारी किया। विशेषज्ञ के ख्याल से चीन सरकार ने श्वेत पत्र जारी कर एकपक्षीयवाद व संरक्षणवाद का कड़ा विरोध करने और खुले सहयोग मंच की स्थापना करने का रुख स्पष्ट रूप से व्यक्त किया।

चीनी सामाजिक विज्ञान अकादमी के विश्व अर्थव्यवस्था व राजनीति के अनुसंधान प्रतिष्ठान के शोधकर्ता नी य्वेएजू ने कहा कि चीन सरकार के श्वेत पत्र जारी करने के दो लक्ष्य हैं। पहला, विश्व व्यापार संगठन में भाग लेते समय चीन द्वारा दिये गये वचनों का पालन न करने की अफवाह का जवाब देना। दूसरा, वर्तमान में रिवर्स वैश्वीकरण व व्यापारिक संरक्षणवाद की पृष्ठभूमि में चीन के दृढ़ता से बहुपक्षीय व्यापारिक व्यवस्था का समर्थन देने का रुख प्रकट करना।

नी य्वेएजू के ख्याल से चीन ने इस वक्त पर श्वेत पत्र जारी किया। जो अपने विकास के अनुभव से विश्व को यह बताना चाहता है कि चीन ने विश्व व्यापार संगठन में भाग लेने से तेजी से विकास किया। साथ ही चीन के तेज़ विकास से विश्व को भी लाभ मिला है।

चंद्रिमा

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी