व्यापार में बाधा डालने से रोज़गार नहीं बढ़ेगा

2018-07-02 17:34:00

वर्तमान में अंतर्राष्ट्रीय व्यापार संबंध तनावपूर्ण हैं। वास्तव में यह वर्ष 2008 हुए वैश्विक वित्तीय संकट के प्रभाव की एक निरंतरता है। विश्व व्यापार संगठन के प्रवक्ता कीथ रॉकवेल ने हाल ही में यह बात कही। व्यापार में बाधा डालने के तरीके से अपने देश में रोज़गार को बढ़ावा नहीं मिल सकता और केवल अर्थव्यवस्था के अन्य पहलुओं में तनाव बढ़ रहा है। विश्व व्यापार संगठन के ढांचे में विवाद समाधान व्यवस्था वर्तमान तनावपूर्ण व्यापारिक संबंध हल करने का एक महत्वपूर्ण तरीका है।

कीथ रॉकवेल का विचार है कि कृत्रिम बुद्धि, स्वचालन और अन्य प्रौद्योगिकियों के विकास और प्रगति कुछ नौकरियों को कम करने का कारण है। यह अनिवार्य है और भविष्य में इसकी स्थिति बनी रहेगी।

विश्व व्यापार संगठन के विवाद समाधान व्यवस्था बहुपक्षीय व्यापार व्यवस्था का स्तंभ है और इस व्यवस्था ने विश्व आर्थिक स्थिरता की रक्षा के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। विश्व व्यापार संगठन के सदस्यों के वचन के अनुसार व्यापार विवाद होने के समय संबंधित पक्ष एकपक्षीय कार्रवाई नहीं करेगा और विवाद समाधान व्यवस्था से राहत लेकर इसके फैसलों का पालन करेगा। लेकिन हाल ही में अमेरिका के कदम एकपक्षीय रहे हैं। यह विश्व व्यापार संगठन के नियम का उल्लंघन है।

वर्ष 2001 से विश्व व्यापार संगठन में भाग लेने से अब तक चीन हमेशा से इस संगठन के नियम का दृढ़ता से पालन और इसकी रक्षा करता है, बहुपक्षीय व्यापार व्यवस्था के सुधार को बढ़ावा दे रहा है, विवाद समाधान व्यवस्था के प्रभावी संचालन की सक्रिय रूप से रक्षा कर रहा है। इसपर कीथ रॉकवेल ने उच्च मूल्यांकन किया।

(वनिता)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी