चीन और अफ्रीकी देशों ने विकास और गरीबी उन्मूलन का अनुभव साझा किया

2018-07-05 00:35:06

3 जुलाई को चीन और अफ्रीकी देशों ने जेनेवा में संयुक्त रूप से मानवाधिकार बढ़ाने में विकास और गरीबी उन्मूलन के योगदान नाम वाली अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी आयोजित की। दोनों पक्षों ने विकास से मानवाधिकार बढ़ाने के सफल अनुभवों को साझा किया। 20 से अधिक अफ्रीकी देशों के राजदूत, 50 से अधिक देशों के वरिष्ठ राजनयिक, संबंधित अंतरराष्ट्रीय संगठनों के प्रतिनिधि और मानवाधिकार क्षेत्र में देसी विदेशी विशेषज्ञों समेत सौ से अधिक लोग इस मंच में उपस्थित हुए।

संयुक्त राष्ट्र जेनेवा कार्यालय और अन्य अंतरराष्ट्रीय संगठनों में स्थित चीनी स्थाई प्रतिनिधि यू च्येन हुआ ने संगोष्ठी में भाषण देते हुए कहा कि मानव के समान कल्याण के लिए हमें विकास पकड़ना है। सिर्फ़ विकास से ही संघर्ष की जड़ उखाड़ी जा सकेगी। चीन ने 1 अरब 30 करोड़ लोगों के खाने और कपड़े की समस्या दूर की और लगभग 80 करोड़ गरीबी आबादी कम की, जिसने विश्व गरीबी उन्मूलन और मानवाधिकार कार्य के लिए बड़ा योगदान दिया।

उन्होंने कहा कि चीन अपना विकास पूरा करने के साथ मानव के समान विकास में जुटा रहेगा। चीन अफ्रीकी दोस्तों के साथ हाथों में हाथ मिलाकर सहयोग, समान जीत और विकास के नये युग की ओर बढ़ेगा।

व्यापक अफ्रीकी प्रतिनिधियों ने बल दिया कि विकास अधिकार सबसे अहम मानवाधिकार है। मानवाधिकार पूरा करना अंतरराष्ट्रीय समुदाय की समान जिम्मेदारी है। अफ्रीकी देशों ने चीन के अनुभवों से बहुत सीखा और चीन के साथ मानवाधिकार और अन्य क्षेत्रों में घनिष्ठ सहयोग करेंगे।

(वेइतुंग)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी