यूरोपीय संघ और नाटो के बीच नए संयुक्त बयान पर हस्ताक्षर

2018-07-11 11:33:00

नाटो महासचिव जेन्स स्टोल्टेनबर्ग, यूरोपीय परिषद के अध्यक्ष डोनाल्ड टुस्क और यूरोपीय आयोग के अध्यक्ष जीन-क्लाउड जुनकर ने 10 जुलाई को ब्रसेल्स में यूरोपीय संघ और नाटो के बीच एक नए संयुक्त बयान पर हस्ताक्षर किए।

बयान के अनुसार, साल 2016 में यूरोपीय संघ और नाटो के नेताओं ने वार्सा में संयुक्त बयान पर हस्ताक्षर किए, दोनों पक्षों ने सहयोग की मज़बूती और यूरोप-अटलांटिक क्षेत्र में शांति व स्थिरता के संवर्धन का निर्णय लिया। इधर के दो सालों में दोनों पक्षों ने भू-मध्य समुद्री सुरक्षा, मिश्रित युद्ध की धमकी के मुकाबले, आसपास क्षेत्रीय सुरक्षा को बनाए रखने आदि मामले के सहयोग में पर्याप्त उपलब्धियां हासिल कीं।

बयान में कहा गया कि यूरोपीय संघ और नाटो द्वारा नए बयान पर हस्ताक्षर करने का उद्देश्य सहयोग की आवश्यकता को दोहराना है। भविष्य में दोनों पक्ष सैन्य मामले, आतंक विरोध, रासायनिक, जीव, रेडियोधर्मिता और न्यूक्लियर जोखिम के मुकाबले, महिला शांति और सुरक्षा आदि क्षेत्रों में सहयोग करेंगे।

उस दिन को आयोजित न्यूज़ ब्रीफिंग में नाटो महासचिव स्टोल्टेनबर्ग ने कहा कि नए संयुक्त बयान से दोनों महासंगठनों के बीच सहयोग के विस्तार का इरादा जाहिर हुआ। नाटो यूरोप-अटलांटिक की सुरक्षा के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है। यूरोपीय संघ से ब्रिटेन के हटने के बाद नाटो के 80 से अधिक प्रतिरक्षात्मक खर्च यूरोपीय संघ के बाहरी देशों से आता है। इस तरह नाटो में यूरोपीय संघ के बाहरी देशों की भागीदारी और सहयोग की आवश्यकता है।

वहीं टुस्क ने कहा कि नए संयुक्त बयान ने यूरोपीय संघ और नाटो के बीच सहयोग को एक नए स्तर पर पहुंचाया गया है। नाटो सदस्य देश न होने वाले यूरोपीय देशों को व्यापक सहयोग सूची में शामिल किया जाएगा।

(श्याओ थांग)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी