एक पट्टी एक मार्ग योजना में आई मुश्किलों पर चीन का रूख

2018-07-16 20:03:59

ब्रिटिश फाइनेंशियल टाइम्स द्वारा जारी रिपोर्ट के मुताबिक चीन के एक पट्टी एक मार्ग योजना दुनिया के तमाम क्षेत्रों में मुश्किल में है। क्योंकि चीन की वित्तीय व्यवस्था अपारदर्शी है।

इस पर चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ह्वा छुनयिंग ने 16 जुलाई को कहा कि यह रिपोर्ट वास्तविक स्थिति के अनुरूप नहीं है। उन्होंने जोर देते कहा कि चीन के सभी सहयोगी भागीदारों में कोई भी ऐसा देश नहीं है, जो चीन के साथ सहयोग के कारण ऋण संकट में फंस गया है। एक पट्टी एक मार्ग कार्यक्रम संबंधित पक्षों के साथ कोशिश के जरिए हाल के वर्षों में बहुत ज्यादा सहयोग कार्यक्रम का निर्माण पूरा किया है और बड़ी उपलब्धियां हासिल हुई हैं। जिसमें सहयोगी देशों के लिए 2.2 अरब डॉलर का कराधान दिया गया है, साथ ही 2 अरब से ज्यादा नौकरी के मौके भी प्रदान किए गए हैं। संबंधित देशों की सरकार और जनता चीन द्वारा एक पट्टी एक मार्ग कार्यक्रम का स्वागत करते हैं। एक पट्टी एक मार्ग कार्यक्रम का प्रभाव के बारे में इन देशों की सरकार और जनता की बात सबसे विश्वसनीय है।

विश्व में संरक्षणवाद के विकास की वजह से एक पट्टी एक मार्ग के सहयोगी कार्यक्रम के निर्माण में मुश्किल मौजूद है, लेकिन यह विकास के दौरान अपरिहार्य समस्याएं हैं। हम संबंधित पक्षों के साथ इसका हल करेंगे। चीन को उम्मीद है कि भविष्य में संबंधित मीडिया उद्देश्यपरक,निष्पक्ष और व्यापक रिपोर्ट देगा।

(मीरा)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी