22वां विश्व एड्स सम्मेलन आयोजित

2018-07-24 17:02:01

5 दिनों का 22वां विश्व एड्स सम्मेलन नीदरलैंड के एम्स्टर्डम में उद्घाटित हुआ। इस बार के सम्मेलन का विषय “चहारदीवारी को तोड़ना और पुल का निर्माण करना” है। इस बार के सम्मेलन का लक्ष्य एड्स का ऐसा उपाय करना है, जो मानवाधिकारों और विज्ञानों के आधार पर कमजोर और हाशिए पर रहने वाले समूहों की जरूरतों के अनुकूल है।

पूरी दुनिया के 15 हजार प्रतिनिधियों ने इस सम्मलेन में भाग लिया और एड्स की रोकथाम और नियंत्रण पर अनुसंधान नवाचारों, नीतियों और विशिष्ट उपायों पर जानकारी को एक दूसरे से बांटा । इस सम्मेलन के उद्घाटन समारोह में अंतर्राष्ट्रीय एड्स सोसाइटी (आईएएस) की अध्यक्ष लिंडा-गेल बेकर ने भाषण दिया कि वर्तमान में एड्स को खत्म करने की सबसे बड़ी बाधा विचारधारा और राजनीति क्षेत्र में है। जब अंतर्राष्ट्रीय समुदाय विज्ञान के आधार पर नीति बनाने को प्राथमिकता देगा, पर्याप्त धन की गारंटी करेगा और हर तरह से सहयोग करेगा, तो संभव है कि पूरी दुनिया से एड्स खत्म होगा।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक टेड्रोस एडहानोम गेबेरियस ने कहा कि संबंधित पक्षों को एड्स की रोकथाम, नियंत्रण और उपचार सेवा को सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज में लाना चाहिये। साथ ही उन्हें कुंजी समूहों को उपयोगी सेवा देना चाहिये। इसके अलावा उन्हें पूर्वी पूरोप और मध्य-एशिया में एचआईवी संक्रमित लोगों की संख्या में हो रही लगातार वृद्धि समस्या को हल करना चाहिये।विश्व एड्स सम्मेलन पूरी दुनिया में एड्स पर सबसे बड़ा मंच है। हर दो साल में यह सम्मेलन आयोजित होता है। आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2017 के अंत तक पूरी दुनिया में एचआईवी संक्रमित लोगों की कुल संख्या लगभग 3.69 करोड़ तक जा पहुंची है। अभी तक अफ्रीका एड्स ग्रस्त क्षेत्रों में सबसे गंभीर हालत में है, जबकि पूर्वी पूरोप और मध्य-एशिया में एचआईवी संक्रमित लोगों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है।(हैया)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी