चीन अपने आर्थिक मॉडल पर कायम रहेगा : चीनी प्रतिनिधि

2018-07-27 12:02:59

26 जुलाई को विश्व व्यापार संगठन की तीसरी परिषद बैठक जेनेवा में आयोजित हुई। बैठक में अमेरिका ने दस्तावेज जारी कर चीन के आर्थिक मॉडल की आलोचना की। चीनी प्रतिनिधि चांग श्यांग चेन ने इसे नकारते हुए कहा कि चीन दूसरों की आलोचना के बावजूद अपने आर्थिक मॉडल पर कायम रहेगा।

चीनी प्रतिनिधि ने अमेरिका द्वारा पारित “चीन का व्यापार विनाशकारी आर्थिक मॉडल” शीर्षक दस्तावेज़ का जवाब देते हुए कहा कि चीन के राज्य स्वामित्व वाले उद्यम मार्केट पर आधारित कारोबार है। चीन ने अनिवार्य प्रौद्योगिकी हस्तांतरण का कानून नहीं बनाया है। चीन ने विश्व व्यापार संगठन में भाग लेने पर दिये अपने वादों का पालन किया है और विकासमान देश होने के नाते चीन में असंतुलित विकास होने का मुद्दा मौजूद है।

चीनी प्रतिनिधि ने बैठक की समाप्ति पर कहा कि अमेरिका ने नम्बर 301 धारा के मुताबिक व्यापार युद्ध छेड़ा है और एकतरफावादी नीति अपनाने के कारण चीन पर विनाशकारी आर्थिक मॉडल का आरोप लगाया है। अमेरिका के व्यापार संरक्षणवाद और एकतरफावाद से विश्व में परेशानियां अपना सिर उठा रही हैं। विश्व व्यापर संगठन के सदस्यों ने इसका विरोध किया है। इसी पृष्ठभूमि में अमेरिका ने चीन की आलोचना कर विश्व के ध्यान को भटकाने की कोशिश की है। अमेरिका का यह दस्तावेज़ बिल्कुल निराधार है।

चीनी प्रतिनिधि ने कहा कि चीन को अपनी अंतर्राष्ट्रीय जिम्मेदारी मालूम है, और नीति बनाते समय अपने अंतर्राष्ट्रीय प्रभाव तथा बहुपक्षीय नियमों के अनुकूल होने पर विचार करता है। चीन अपनी आर्थिक व्यवस्थाओं में जो समस्याएं मौजूद हैं, उन्हें मानने से इंकार नहीं करता है। चीन रचनात्मक आलोचना का स्वागत करता है, पर निराधार आलोचना को कतई स्वीकार नहीं करेगा।

इस प्रतिनिधि ने कहा कि वर्तमान में सबसे महत्वपूर्ण बात है कि एकतरफावाद और संरक्षणवाद की रोकथाम की जाए और व्यापार युद्ध को यथाशीघ्र बन्द किया जाए। विश्व व्यापार संगठन के 164 सदस्य हैं, विकासमान सदस्यों की जरूरतों को प्रतिबिंबित किया जाना चाहिये।

( हूमिन )

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी