चीनी विदेश मंत्रालय ने अमेरिका के सामने थाईवान का मामला उठाया

2018-08-01 17:02:04

खबर के अनुसार चीन के थाईवान क्षेत्र की नेता छाए इंगवन अगले महीने पराग्वे और बेलीज की यात्रा करेंगी, और अमेरिका से होकर गुजरेंगी। इसकी चर्चा में चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता कंग श्वांग ने 31 जुलाई को आयोजित नियमित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि चीन ने अमेरिका के सामने गंभीर रूप से इस मामले को उठाया है।

कंग श्वांग ने कहा कि एक चीन की नीति अंतर्राष्ट्रीय समुदाय की व्यापक सहमति है। दो चीन या एक चीन एक थाईवान बनाने की किसी कुचेष्टा को ज़रूर सभी चीनी जनता का कड़ा विरोध मिलेगा। वह थाईवान जनता के बुनियादी हितों से भी मेल नहीं खाता है। आशा है थाईवान सरकार वास्तविक स्थिति के आधार पर जल्द ही 1992 सहमति में वापस कर सकेगी।

उन्होंने कहा कि अमेरिका में थाईवान क्षेत्र की नेता के ट्रांजिट मामले पर चीन ने कई बार अपने रुख पर प्रकाश डाला है, और अमेरिका के सामने गंभीर रूप से इस मामले को उठाया है। चीन हमेशा से अमेरिका समेत उन देशों, जिन्होंने चीन के साथ राजनयिक संबंधों की स्थापना की है, द्वारा इस तरह के ट्रांजिट का प्रबंध करने का कड़ा विरोध करता है। यह रुख बहुत स्पष्ट है और सुदृढ़ है। चीन अमेरिका से एक चीन की नीति और चीन-अमेरिका तीन संयुक्त बुलेटिन का पालन कर थाईवानी नेता को ट्रांजिट करने की अनुमति न देने, और वास्तविक कार्रवाई से चीन-अमेरिका संबंधों और थाईवान जलडमरूमध्य की शांति व स्थिरता की रक्षा करने का आग्रह किया।

चंद्रिमा

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी