चीन से आयातित उत्पादों ज्यादा टैरिफ लगाना डब्ल्यूटीओ के नियमों का उल्लंघन

2018-08-09 11:02:00

अमेरिका के व्यापार प्रतिनिधि कार्यालय ने 7 अगस्त को यह घोषणा की कि 23 तारीख से चीन से आयातित करीब 16 अरब यूएस डॉलर के उत्पादों पर 25 प्रतिशत ज्यादा टैरिफ लगाएगा। इस पर अमेरिका के थिंक टैंक यानी चीन अमेरिका अनुसंधान केंद्र के उच्च स्तरीय अनुसंधानकर्ता सौरभ गुप्ता ने कहा कि अमेरिका की यह कार्यवाही एक बार फिर डब्ल्यूटीओ के संबंधित नियमों का उल्लंघन करती है, जो सफल नहीं होगी।

गुप्ता ने कहा कि अमेरिका ने एकतरफा तौर पर चीन के खिलाफ टैरिफ कदम उठाते समय जानबूझकर डब्ल्यूटीओ के संबंधित नियमों को अनदेखा किया। यह कार्यवाही निराशाजनक है।

गुप्ता ने कहा कि पिछले महीने चीन से आयातित करीब 16 अरब यूएस डॉलर के उत्पादों पर ज्यादा टैरिफ लगाने के अमेरिका के व्यापार प्रतिनिधि कार्यालय की सुनवाई बैठक में रासायनिक, तार और केबल, इलेक्ट्रॉनिक्स, अर्धचालक, खुदरा और अन्य उद्योग संघों ने समान रूप से विरोध की राय पेश की। लेकिन ट्रम्प सरकार ने टैरिफ कदम उठाया। गुप्ता ने कहा कि इस कार्यवाही से अमेरिका के सेमीकंडक्टर निर्माताओं को नुकसान होगा और उपभोक्ताओं को भी नुकसान झेलना पड़ेगा।

(वनिता)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी