विशेषज्ञ : तिब्बत में जातीय एकता और धार्मिक सामंजस्य

2018-08-14 11:32:00

संयुक्त राष्ट्र रंगभेद विरोधी कमेटी ने 13 अगस्त को जेनेवा में चीन में सभी किस्म वाले नस्लवाद विरोधी अंतर्राष्ट्रीय संधि की रिपोर्ट पर एक बैठक बुलायी। चीन सरकार के प्रतिनिधिमंडल के सदस्य, तिब्बती स्वायत्त प्रदेश के समाजवादी अकादमी के उप प्रधान डॉक्टर लोडान ने बैठक में कहा कि आज तिब्बत में आर्थिक विकास के साथ-साथ जन जीवन में सुधार आया है, जातीय एकता और धार्मिक सामंजस्य भी कायम हो गया है।

इस विशेषज्ञ के अनुसार तिब्बत में बौद्धिक धर्म, ईस्लामी और कैथोलिक आदि सब मौजूद हैं। तिब्बत में विभिन्न धार्मिक स्थलों की संख्या 1787 तक रही है और मंदिरों में भिक्षुकों और भिक्षुणियों की संख्या 46 हजार तक जा पहुंची है। सभी धार्मिक गतिविधियों का भी अच्छी तरह संरक्षण किया जा रहा है।

लोडान ने कहा कि पिछले महीने तिब्बती समाजवादी अकादमी और स्वायत्त प्रदेश के संस्कृति विभाग में अमूर्त सांस्कृतिक उत्तराधिकारियों का प्रशिक्षण क्लास आयोजित किया गया। विशेषज्ञों और विद्वानों ने क्लास में अमूर्त सांस्कृतिक उत्तराधिकारियों के लिए सांस्कृतिक उद्योगों के विकास, गैर-भौतिक सांस्कृतिक अवशेषों के संरक्षण तथा पारिस्थितिकी संरक्षण के बारे में जानकारियों का प्रसार किया।

(हूमिन)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी