टिप्पणी :चीन में विदेशी निवेशकों में विश्वास कहां आता है ?

2018-08-14 15:02:00

चीनी वाणिज्य मंत्रालय के अनुसार इस साल के पूर्वार्द्ध में चीन में विदेशी निवेशकों ने 29591 नये उद्यम स्थापित किये ,जो गतवर्ष की समान अवधि से 96.6 प्रतिशत बढ़े ।68 अरब 32 करोड़ अमेरिकी डॉलर का वास्तविक प्रयोग किया गया ,जो गतवर्ष की समान अवधि से 41 प्रतिशत अधिक रहा ।चीन के मुख्य निवेश स्रोतों में अमेरिका का निवेश 29.1 प्रतिशत बढ़ा ।चीन अमेरिका व्यापार युद्ध का प्रभाव कुछ समय बाद दिखेगा ,लेकिन उक्त आंकडों से पता चला है कि ट्रेड वॉर के नकारात्मक प्रभाव के अनुमान के बावजूद चीन के प्रति विदेशी पूंजी निवेशकों का पक्का विश्वास है। इसके पीछे पाँच मुख्य कारण हैं ।

पहला ,चीन में उत्पादन और उपभोग का साथ-साथ विकास होने का मौका है ।अनुमान है कि वर्ष 2030 में विश्व मध्य वर्ग की आबादी 4 अरब 90 करोड़ होगी ,जिसमें दो तिहाई एशिया में होगी और अधिकांश चीन में बसेंगे ।उत्पादन और उपभोग की एकता का मौका चीन के खुले बाजार में जाहिर होगा ,जो अधिकाधिक बहुराष्ट्रीय उद्यमों को चीन में आकर्षित करेगा ।चीन एक बड़े उपभोग देश के रूप में विश्व आर्थिक वृद्धि के लिए योगदान देगा ।

दूसरा ,चीन के पास संपूर्ण व्यावसायिक चेन का लाभ है ,जो विदेशी पूंजी से संचालित उद्यमों के उत्पादन के लिए संपूर्ण सहायक सेवा प्रदान कर सकता है ।उल्लेखनीय बात है कि व्यावसायिक चेन की जटिलता कुछ हद तक व्यावसायिक पैमाने की तुलना में अधिक आकर्षक है ।

तीसरा ,चीन में बड़े पैमाने वाली उत्पादन क्षमता और विकसित देशों की सृजनात्मक क्षमता एक दूसरे की पूरक है ।बुनियादी अध्ययन और इस्मेमाल अध्ययन से वाणिज्यिकरण और बड़े पैमाने वाले उत्पादन तक एक लंबी चेन है ।चीन की बड़े पैमाने वाली उत्पादन क्षमता और बड़ा बाजार बड़ी संख्या वाले सृजनात्मक उद्यमों को आकर्षित कर रहा है ।

चौथा ,समग्र स्थिति से देखा जाए , व्यापार युद्ध के कुप्रभाव के बावजूद विश्व आर्थिक बहाली चीन के लिए लाभकारी बाहरी शर्त प्रदान करेगी ।आईएमएफ का अनुमान है कि चालू साल विश्व आर्थिक वृद्धि दर 3.9 प्रतिशत होगी ।

पांचवां ,चीन वैदेशिक खुलेपन बनाए रखेगा ।28 जुलाई को चीन में विदेशी पूंजी निवेश के दाखिले की विशेष प्रंबधन काररवाई( नकारात्मक सूची )(2018 संस्करण) लागू हुई है ,जिस से बहुत नियंत्रण हटाये गये हैं और कई नये क्षेत्र खोले गये है ,जैसे बैंकिंग में विदेशी पूंजी के शेयरों की सीमा रद्द की गयी है ।

अगर चीन में आर्थिक संचालन स्थिर बना रहेगा ,तो विशाल बाजार और बढिया व्यावसायिक चेन के तहत चीन में विदेशी पूंजी निवेश बढ़ता रहेगा ।ट्रेड वॉर और विदेशी पूंजी के आकर्षण के बीच रिश्ता नहीं है ।

(वेइतुंग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी