“मेरी चीन यात्रा” पर पहली हिस्सा बैठक मालदीव में आयोजित

2018-08-14 17:02:00

मालदीव में स्थित चीनी दूतावास के तत्वावधान में चीन-मालदीव सांस्कृतिक आदान-प्रदान संघ की सहायता में “मेरी चीन यात्रा” पर पहली बैठक 11 अगस्त को मालदीव में आयोजित की गयी। इस बैठक में मालदीव के प्रसिद्ध निदेशकों, चिकित्सकों, विश्वविद्यालय शिक्षकों, सरकारी कर्मचारियों और छात्रों के प्रतिनिधियों ने चीन की यात्रा में अपने अनुभव साझा किए। चीन की यात्रा करने वाले 100 से अधिक मालदीव के अधिकारियों, सरकारी कर्मचारियों, मीडिया कार्यकर्ताओं और छात्रों ने भी इस बैठक में हिस्सा लिया।

मालदीव में चीनी राजदूत जांग लीज़ोंग ने कहा कि पिछले कुछ सालों में चीन और मालदीव के बीच राजनीतिक आपसी विश्वास निरंतर मजबूत हुआ। “एक पट्टी एक मार्ग” प्रस्ताव के ढांचे में सभी क्षेत्रों में दोनों देशों के बीच सहयोग आगे बढाया गया। चीन-मालदीव संबंध अभूतपूर्व स्तर पर पहुंचे। मालदीव में चीन-मालदीव दोस्ती पुल, लैविना एयरपोर्ट की पुनर्निर्माण व विस्तार परियोजना, सामाजिक आवास परियोजना समेत बुनियादी सुविधा निर्माण की बडी परियोजनाओं में महत्वपूर्ण चरणबद्ध परिणाम हासिल हुए। दोनों पक्षों के बीच आपसी-लाभदायक सहयोग में मालदीव की जनता के जीवन का हर क्षेत्र सम्मिलित है।

उन्होंने कहा कि चीन की यात्रा में विभिन्न मालदीव के नागरिकों की कहानी अपना-अपना व्यक्तिगत अनुभव है। लेकिन ये कहानी और अनुभव पिरोकर चीन-मालदीव दोस्ती के लिये सबसे अच्छी टिप्पणी बन सकी।

मालदीव की सरकारी कर्मचारी परिषद के अध्यक्ष ड्रॉ. अली शमीम ने कहा कि अन्य देशों की तुलना में हर साल मालदीव के सरकारी कर्मचारियों के लिये चीन द्वारा प्रस्तुत प्रशिक्षण अवसर सबसे ज्यादा हैं। चीन ने मालदीव के लिये देश के प्रशासन पर मूल्यवान अनुभव प्रदान किया।

चीन-मालदीव सांस्कृतिक आदान-प्रदान संघ के प्रमुख और चीन में पूर्व मालदीव राजदूत मोहम्मद रशीद ने कहा कि वह चीन में मालदीव के पहले छात्र हैं। चीनी संस्कृति से प्यार करने के कारण चीन में मालदीव राजदूत का पद छोड़ने के बाद उन्होंने चीन-मालदीव सांस्कृतिक आदान-प्रदान संघ की स्थापना की। यह संघ दोनों देशों के जीनताओं विशेषकर युवाओं के बीच संपर्क मजबूत करने का हर प्रयास करेगा।(हैया)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी