चीन-अफ्रीका सहयोग पर चीनी अनुसंधान संस्थान की रिपोर्ट प्रकाशित

2018-08-15 15:03:01

चीनी सामाजिक विज्ञान अकादमी के पश्चिमी एशिया व अफ्रीका संस्थान ने हाल ही में चीन और अफ्रीका के बीच सहयोग के बारे में एक रिपोर्ट प्रकाशित की। इस रिपोर्ट के अनुसार सितंबर में चीन-अफ्रीका सहयोग मंच पेइचिंग शिखर सम्मेलन के आयोजन से इन दो पक्षों के बीच रणनीतिक साझेदार संबंधों की स्थापना, और घनिष्ठ समान भाग्य वाले समुदाय के निर्माण के लिए अहम भूमिका अदा की जाएगी। और सम्मेलन के आयोजन से चीन और अफ्रीका के बीच आर्थिक व व्यापारिक सहयोग के लिए महत्वपूर्ण विकास वातावरण तैयार किया जाएगा। दोनों पक्षों के बीच राजनीतिक संचार, सुविधा कनेक्टिविटी, व्यापार, वित्त और मानवीय आदान प्रदान के संदर्भ में भी अधिक सहयोग किया जाएगा।

"अफ्रीकी विकास रिपोर्ट (2017-2018)" शीर्षक इस रिपोर्ट ने अफ्रीका में भू-राजनीति के विकास प्रवृत्ति पर प्रकाश डाला और अफ्रीका में राजनीतिक पारिस्थितिकी, आर्थिक स्थिति, सुरक्षा, विदेशी संबंध, कानून और जनमत पर्यावरण की नई स्थितियों का विश्लेषण किया और चीन के अफ्रीका में हितों पर प्रभाव के प्रति भी सुझाव पेश किया। रिपोर्ट का मानना है कि इधर के वर्षों में अफ्रीकी भू-राजनीति के विखंडन के साथ-साथ राजनयिक स्वतंत्रता भी निरंतर बढ़ती रही है। अफ्रीका की आर्थिक विकास की उम्मीद बढ़ने के साथ-साथ पूंजीनिवेश वातावरण में भी सुधार आया है। पर इसी के साथ अफ्रीका के वैदेशिक व्यापार में भारी गिरावट आयी है और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय की सहायता मात्रा भी कम बनी हुई है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि वर्ष 2015 में चीन-अफ्रीका सहयोग मंच के जोहान्सबर्ग शिखर सम्मेलन के आयोजन से चीन और अफ्रीका के बीच सहयोग करने और समान विकास प्राप्त करने का नया युग नजर आ रहा है। चीन-अफ्रीका संबंधों को व्यापक रणनीतिक साझेदार संबंध बनाया गया है। दोनों पक्षों के बीच राजनीति, व्यापार, संस्कृति, सुरक्षा और अंतर्राष्ट्रीय मामलों पर सहयोग बढ़ता जा रहा है। चीन और अफ्रीका के बीच सहयोग स्तर को उन्नत करने की प्रवृत्ति भी जोरों पर बढ़ रही है। सितंबर में आयोजित होने वाले पेइचिंग शिखर सम्मेलन के आयोजन से चीन अफ्रीका साझेदार संबंधों को बढ़ाने और घनिष्ठ चीन-अफ्रीका समान भाग्य वाले समुदाय के निर्माण में भूमिका अदा की जाएगी। चीनी विदेश मंत्रालय के अफ्रीकी विभाग के भूतपूर्व प्रधान छंग ताओ ने कहा कि पेइचिंग शिखर सम्मेलन में नये कदम और विचारधारा प्रस्तुत की जाएगी। चीन और अफ्रीका के बीच सहयोग के नये क्षेत्र भी खोले जाएंगे।

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि इधर के वर्षों में चीन और अफ्रीका के बीच व्यापार में भी वृद्धि हुई है। आयात निर्यात ढ़ांचा और बाजार भी स्थिर है। रिपोर्ट का मानना है कि चीन और अफ्रीका के बीच आर्थिक सहयोग का सही वातावरण तैयार होने के साथ-साथ दोनों के बीच व्यापक सहयोग करने की संभावना भी मौजूद है। चीनी सोशल विज्ञान अकादमी के पश्चिमी एशिया व अफ्रीका संस्थान के प्रधान ली ची प्याओ ने कहा कि बुनियादी ढांचा निर्माण अफ्रीका के आर्थिक विकास का एक महत्वपूर्ण स्तंभ बन गया है। भविष्य में चीन अफ्रीका के औद्योगिकीकरण के स्तर को उन्नत करने के लिए मदद देगा।

( हूमिन )

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी