चीनी सेना ने अमेरिका द्वारा चीनी फौज और सुरक्षा विकास की रिपोर्ट जारी करने का कड़ा विरोध किया

2018-08-18 15:02:02

17 अगस्त को अमेरिकी रक्षा मंत्रालय ने वर्ष 2018 चीनी फौज और सुरक्षा विकास की स्थिति की रिपोर्ट जारी की ।इस रिपोर्ट में चीन के रणनीतिक इरादे को विकृत किया गया ,तथाकथित चीनी सैन्य खतरे को बढ़ा-चढ़ा कर पेश किया गया और थाईवानी जलडमरूमध्य की स्थिति एवं दोनों तटों के संबंधों पर निराधार टिप्पणी की गयी ।चीनी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता वू छन ने उस दिन की रात प्रतिक्रिया करते हुए कहा कि चीनी सेना इस का डटकर विरोध करती है और अमेरिकी पक्ष के समक्ष गंभीरता से यह मामला उठाया है ।

वू छन ने बताया कि चीन शांतिपूर्ण विकास के रास्ते पर कायम रहकर रक्षात्मक नीति का पालन करता है ।चीन हमेशा विश्व शांति का निर्माणकर्ता ,विश्व विकास का योगदानकर्ता और अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था का सुरक्षक है ।चीनी सेना के आधुनिकीकरण का उद्देश्य राष्ट्रीय प्रभुसत्ता ,सुरक्षा और विकास के हितों की सुरक्षा करना और विश्व शांति ,स्थिरता और समृद्धि की सुरक्षा करना है ।चीनी सेना का सुधार ,हथियार और सामान का विकास ,नेटवर्क स्पेस की रक्षात्मक क्षमता का निर्माण जायज है ।अमेरिकी रिपोर्ट में जो आरोप लगाया गया है ,वह सरासर निराधार कयास है ।

वू छन ने बल देते हुए कहा कि थाईवान चीन का एक अभिन्न अंग है ,जो अकाट्य तथ्य है ।हम अमेरिका से सावधानी से थाईवान से जुड़े सवालों का निपटारा करने का अनुरोध करते हैं ।

समुद्री सवाल की चर्चा में वू छन ने कहा कि चीन संबंधित देशों के साथ प्रत्यक्ष वार्ता से शांतिपूर्ण तरीके से मतभेद का समाधान करने में लगता है ।चीनी पक्ष दक्षिण चीन सागर के द्वीप पर जो शांतिपूर्ण निर्माण कर रहा है ,वह प्रभुसत्ता संपन्न देश का वैधिक अधिकार है ।प्रतिरक्षा की जरूरत पूरी करने के अलावा वह सिविल सेवा भी प्रदान करती है ।

वू छन ने अमेरीकी पक्ष से ऐसी रिपोर्ट जारी करना बंद करने का अनुरोध किया ।

(वेइतुंग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी