अमेरिका के व्यापारिक प्रतिबंध के विरोध में रूस भी जवाब देगा

2018-08-23 15:03:01

रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने 22 अगस्त को कहा कि अमेरिका द्वारा रूस के खिलाफ लगाये गये प्रतिबंध बिल्कुल निराधार हैं। अमेरिका ने रूस में अनेक इकाइयों, व्यक्तियों और जहाजों पर प्रतिबंध लगाना शुरू किया और उनकी अमेरिका में मौजूद संपत्तियों को जब्त किया। प्रतिबंध लगाने के बहाने से उत्तर कोरिया के जहाजों के साथ तेल व्यापार करना आदि शामिल है।

अमेरिका और यूरोप द्वारा रूस के खिलाफ लगाए गये आर्थिक प्रतिबंधों से रूसी अर्थतंत्र को गतिरोध में डाला है, पर रूस भी जवाबी प्रहार करेगा। 13 अगस्त को रूसी विदेश मंत्री ने तुर्की के विदेश मंत्री के साथ वार्ता कर यह घोषित किया कि रूस अमेरिका के विरोध की उपेक्षा कर तुर्की के साथ आर्थिक व्यापार करेगा। इसके अलावा रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने 18 अगस्त को जर्मनी जाकर जर्मन चांसलर मार्केल के साथ वार्ता की। उन्होंने अमेरिका द्वारा विरोध किये जा रहे प्राकृतिक गैस लाइन के निर्माण पर विचार विमर्श किया। रूस ने अमेरिका के आर्थिक दबाव के नीचे ईरान, तुर्की और कुछ यूरोपीय देशों के साथ आर्थिक सहयोग करना शुरू किया है।

राजनयिक गतिविधि के अलावा रूस ने अमेरिकी डालर के अंतर्राष्ट्रीय निपटान मुद्रा के स्थान को चुनौती दी। मार्च से मई तक रूस ने अपने यहां जमी अमेरिकी ट्रेजरी बांड 96.1 अरब अमेरिकी डालर से 14.9 अरब अमेरिकी डालर तक कम किया है। रूसी अधिकारियों ने अनेक बार कहा है कि रूस अंतर्राष्ट्रीय व्यापार में अधिकाधिक तौर पर घरेलू मुद्रा निपटान अपनाएगा। वास्तव में रूस ने यूरोप एशिया गठबंधन और शांगहाई सहयोग संगठन आदि संगठनों में ऐसा करने का प्रयास किया है।

दो साल पहले राष्ट्रपति पुतिन ने भारत, चीन, स्वतंत्र देश समुह तथा दूसरे देशों से एक महा यूरोप एशिया साझेदार संबंध शीर्षक आर्थिक गठबंधन की स्थापना करने का सुझाव पेश किया था। इससे यह जाहिर है कि रूस ने अपने राजनयिक केंद्र को पश्चिम से पूर्व तक मोड़ना शुरू किया है। रूस को इस योजना से अमेरिका के प्रतिबंध का विरोध करने के लिए दीर्घकालीन सहारा प्राप्त होगा।

( हूमिन )

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी