नागरिक कानून का कॉर्पस बनाने में दूसरा कदम बढ़ाया चीन ने

2018-08-28 19:34:00

नागरिक कानून के कॉर्पस को समाज व जीवन का ज्ञानकोश माना जाता है। जो नागरिक अधिकारों का घोषणा पत्र व गारंटी पत्र भी है। 27 अगस्त को चीनी विधि निर्माण संस्थान ने नागरिक कानून के कॉर्पस कार्य का दूसरा कदम शुरू किया। पेइचिंग में आयोजित हो रहे चीनी राष्ट्रीय जन प्रतिनिधि सभा की 13वीं स्थाई समिति के पांचवें सम्मेलन में पहली बार नागरिक कानून के मसौदे का विचार-विमर्श किया गया। मसौदे में संपत्ति अधिकार, अनुबंध, व्यक्तित्व अधिकार, शादी व परिवार, उत्तराधिकार, अधिकार उल्लंघन कर्तव्य समेत छह भाग शामिल हुए हैं। कुल मिलाकर इसमें 1034 धाराएं हैं।

गौरतलब है कि नये चीन की स्थापना के बाद चीन ने वर्ष 1954, 1962, 1979, 2001 में क्रमशः चार बार नागरिक कानून का कॉर्पस बनाने का कार्य किया था। लेकिन उसी समय ऐतिहासिक शर्त बहुत सीमित थी, इसलिये इसे लागू नहीं किया जा सका। फिर वर्ष 2014 के अक्तूबर में चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की अठारहवीं केंद्रीय कमेटी के चौथे पूर्णाधिवेशन में नागरिक कानून का कॉर्पस बनाने को पेश किया गया। इसके बाद इस से संबंधित कार्य शुरू हुआ।

चंद्रिमा

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी