चीन ने अफ्रीका के लिए 2 लाख व्यावसायिक और तकनीकी कर्मियों को प्रशिक्षित किया है

2018-09-03 11:02:01

1 सितंबर को आयोजित 2018 चीन-अफ्रीका सहयोग मंच के पेइचिंग शिखर सम्मेलन के प्रेस सम्मेलन में चीनी विदेश मंत्रालय के अफ्रीका विभाग के तीन पूर्व निदेशकों ने चीन की अफ्रीका के प्रति नीति, चीन-अफ्रीका संबंध और सहयोग मंच के बारे में जानकारी दी। परिचय के अनुसार चीन ने 2015 से लेकर 30 हजार अफ्रीकी छात्रों को सरकारी छात्रवृत्ति प्रदान किया और विभिन्न प्रकार के 2 लाख व्यावसायिक और तकनीकी कर्मियों को प्रशिक्षित किया है।

पूर्व निदेशक श्यू चिंग्हू ने कहा कि अफ्रीकी देशों के नेता युवाओं की शिक्षा और प्रशिक्षण, विशेष रूप से युवा की रोजगार की समस्या को हल करने को बहुत महत्व देते हैं। जिन क्षेत्रों पर अफ्रीका का ध्यान केंद्रित है, वे भी ऐसे क्षेत्र हैं जहां चीन चीन-अफ्रीका सहयोग मंच के ढांचे के भीतर सहयोग पर ध्यान देता है।

चीन-अफ्रीका सहयोग मंच का महत्वपूर्ण हिस्सा गरीबी उन्मूलन अनुभव को लेकर पूर्व निदेशक ल्यू क्वे चिन ने कहा कि 2015 जोहान्सबर्ग शिखर सम्मेलन में चीन और अफ्रीका ने एक बहुत ही मजबूत गरीबी उन्मूलन सहयोग योजना बनायी है। चीन हमेशा अफ्रीकी भाइयों के साथ अपने गरीबी उन्मूलन अनुभव को साझा करना चाहता है। उम्मीद है कि इस बार के पेइचिंग शिखर सम्मेलन में लोगों की आजीविका से संबंधित अधिक सहयोग परियोजनाएं निकलेंगी

इसके साथ सांस्कृतिक आदान-प्रदान भी चीन-अफ्रीका सहयोग मंच का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। पूर्व निदेशक श्यू चिंग्हू ने कहा कि चीन और अफ्रीका के बीच सांस्कृतिक आदान-प्रदान बढ़ता जा रहा है। अब तक 200 से अधिक सांस्कृतिक सहयोग परियोजनाओं को लागू किया जा चुका है।

पूर्व निदेशक छंग थाओ ने कहा कि चीन और अफ्रीका के बीच सहयोग राजनीतिक रूप से समान और आर्थिक रूप से परस्पर लाभकारी है। चीन ने न केवल अफ्रीकी बाजार में "मेड इन चाइना" भेजा है, बल्कि " मेड इन अफ्रीका" को स्थापित करने में भी अफ्रीका की मदद की।

(नीलम)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी