अमेरिका के डब्ल्यूटीओ से हटने से देश में वाणिज्यिक अव्यवस्थित स्थिति पैदा होगी- रॉबर्टो अज़ेवेडो

2018-09-03 11:02:01

अगर अमेरिका विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) से हट जाता है, तो दुनिया भर में संचालित अमेरिकी कंपनियां अव्यवस्थित स्थिति में फंस जाएंगी। डब्ल्यूटीओ के महानिदेशक रॉबर्टो अज़ेवेडो ने 1 सितम्बर को ब्लूमबर्ग समाचार को दिए एक इन्टरव्यू में यह बात कही।

गौरतलब है कि 30 अगस्त को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने डब्ल्यूटीओ से हटने की धमकी दी। उन्होंने कहा कि अगर अमेरिका के साथ डब्ल्यूटीओ के व्यवहार में कोई बदलाव नहीं आया, तो वह विश्व व्यापार संगठन से हट जाएगा। रॉबर्टो अज़ेवेडो ने ट्रम्प के इस कथन के जवाब में यह प्रतिक्रिया दी।

उन्होंने कहा कि वैश्विक व्यापारिक रकम में अमेरिका का 11 प्रतिशत हिस्सा है। अगर डब्ल्यूटीओ से अमेरिका हटता है, तो दोनों पक्षों के बीच टकराव पैदा होगा। अगर दूसरे सदस्य विश्व व्यापार संगठन के नियम का पालन नहीं करते, तो अमेरिकी उपक्रमों को वाणिज्यिक भेदभाव और नये चुंगी कर वाले प्रभाव पड़ेगा। ट्रम्प ने हमेशा से शिकायत की है कि अमेरिका के साथ विश्व व्यापार संगठन अन्याय करता था। इसकी चर्चा करते हुए डब्ल्यूटीओ के महानिदेशक रॉबर्टो अज़ेवेडो ने कहा कि कोई भी देश मुठभेड़ में हमेशा जीत नहीं सकता। वास्तव में अमेरिका ने 90 प्रतिशत मामलों में जीत हासिल की है।

(श्याओ थांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी